विदेश में नौकरी छोड़ देश में शुरू किया अचार का व्यवसाय 

1394
08 Sep 2021
5 min read

News Synopsis

अक्सर माता-पिता की इच्छा होती है कि उनके बच्चे अच्छे से पढ़ें ताकि उन्हें विदेशों में भी अच्छी नौकरी के अवसर मिल सकें। विदेश में नौकरी करने वाली निहारिका भार्गव ने नौकरी छोड़ कर देश में पिता के शौक को अपना व्यवसाय बनाया और ना सिर्फ व्यवसाय बनाया बल्कि उसे सफलता की ऊंचाइयों तक ले गयीं। अपने पिता के अचार बनाने की कला को निहारिका ने उसे व्यवसाय के रूप में बदल दिया। इसके साथ ही वह उन लोगों को भी काम करके पैसे कमाने का अवसर दे रहीं हैं जिनके पास कोई रोजगार नहीं है। निहारिका भार्गव ने अपने लगन से यह साबित कर दिया कि कोई भी काम बड़ा या छोटा नहीं होता है। व्यक्ति अपनी मेहनत से किसी भी काम को सफल बना सकता है।    

Podcast

TWN In-Focus