महाराष्ट्र की दीक्षा को मिला नासा से फ़ेलोशिप

412
20 Aug 2021
2 min read

News Synopsis

यदि मेहनत और लगन से कोई काम किया जाये तो सफलता कदम चूमती ही है। दिल से किये गये काम का फल एक दिन जरूर मिलता है और यदि ज्यादा लगन से काम किया जाये तो सफलता कम समय में ही घर पर दस्तक दे देती है। यही हुआ है महाराष्ट्र की 14 वर्ष की दीक्षा शिंदे के साथ। जिनकी मेहनत और लगन ने साबित कर दिया कि हर मंजिल को आसानी से पाया जा सकता है। दीक्षा को नासा की तरफ से फ़ेलोशिप का प्रस्ताव मिलने से देश का हर व्यक्ति उन्हें बधाई दे रहा है और खुश हो रहा है। खुश हो भी क्यों ना देश की बेटी ने दुनिया में अपने नाम के साथ देश का भी नाम जो रोशन किया है। दीक्षा को पैनेलिस्ट के रूप में फ़ेलोशिप मिलना देश के लिए बड़ी उपलब्धि है, क्योंकि इससे देश के अन्य छात्र भी प्रेरित होंगे और उनके अंदर कुछ कर दिखाने का जूनून पैदा होगा। देश में ऐसी कई प्रतिभाएं हैं जो या तो समय के अभाव के कारण कुछ नहीं कर पातीं या तो संसाधनों की कमी के कारण कुछ नहीं कर पातीं। ऐसे में हम सबका यह दायित्व है कि हम इन प्रतिभाओं को उभरने का अवसर दें। 

Podcast

TWN In-Focus