चीन-ताइवान के बीच छिड़ी जंग तो चिप से बनने वाली चीजों पर पड़ेगा असर

31
05 Aug 2022
min read

News Synopsis

रूस और यूक्रेन Russia & Ukraine के बीच पिछले कई महीनों से जंग जारी है। इसी बीच ताइवान Taiwan के मसले पर चीन और अमेरिका China & USA के बीच भी तनाव बढ़ गया है। अमेरिका के निचले सदन की स्पीकर नैंसी पेलोसी Nancy Pelosi के ताइवान यात्रा के बाद दोनों देशों रिश्ते और खराब हो गए हैं। चीन ताइवान को हर तरीके से धमकाने की कोशिशों में जुटा हुआ है। ताइवान के एयर डिफेंस जोन Air Defense Zone में चीन के विमान दिखे जाने लगे हैं।

वहीं दूसरी ओर, ताइवान भी चीन की सुनने को तैयार नहीं है। वह अमेरिका के साथ अपनी दोस्ती चीन के दबाव में कतई नहीं तोड़ना चाहता। जबकि, चीन, ताइवान और अमेरिका के बीच शुरू हुआ यह तनाव दुनिया के टेक मार्केट Tech Market के लिए सही नहीं है। इसका कारण ताइवान है। जिसका टेक मार्केट में अपनी विशेषज्ञता के कारण दबदबा है। तकनीक और सेमीकंडक्टर बाजार Tech & Semiconductor Market में ताइवान का बड़ा योगदान है।

दुनियाभर के 90 फीसदी आधुनिक सेमीकंडक्टर Modern Semiconductor ताइवान ही बनाता है। बीते साल ही ताइवान ने 118 अरब डॉलर का सिर्फ सेमीकंडक्टर निर्यात किया गया है। ताइवान की कंपनी Taiwan Semiconductor Manufacturing Company (TSMC)  दुनिया की दिग्गज टेक कंपनियों के लिए चिप बनाती है।

इनमें एपल Apple, एएमडी AMD, Nvidia और ARM जैसी कंपनियां शामिल हैं। गौर करने वाली बात ये है कि इन चिप्स का इस्तेमाल स्मार्टफोन Smartphones, कार Cars, लैपटॉप और दूसरी इलेक्ट्रॉनिक Laptops & Other Electronics things चीजों में होता है। 

Podcast

TWN In-Focus