चावल में आर्सेनिक का होना कितनी बड़ी समस्या है?

618
09 Aug 2021
5 min read

News Synopsis

आर्सेनिक दुनिया के सबसे जहरीले तत्वों में से एक है। आर्सेनिक हमारे पर्यावरण में प्राकृतिक रूप से मौजूद एक विषैला तत्व है। इसे दो समूहों में बांटा गया है, कार्बनिक आर्सेनिक और अकार्बनिक आर्सेनिक। कार्बनिक आर्सेनिक की तुलना में अकार्बनिक आर्सेनिक अधिक विषैला होता है। दरअसल चावल दूसरे सब्जियों और अनाजों की तुलना में पानी और मिट्टी से अधिक आर्सेनिक को अवशोषित करता है।

चावल का इस्तेमाल तो लोग सदियों के कर रहे हैं और चावल में हमेशा से ही आर्सेनिक पाया जाता था लेकिन यह समस्या अब बदतर होती जा रही है। कारण यह है कि व्यापक प्रदूषण खाद्य पदार्थों में आर्सेनिक के स्तर को बढ़ा रहा है। यह चिंता का विषय इसीलिए है क्योंकि चावल दुनिया की आबादी के एक बड़े हिस्से के लिए मुख्य भोजन है। 

इसमें कोई शक नहीं है कि चावल में आर्सेनिक का पाया जाना वास्तव में एक समस्या है। लोग रोजाना या दिन में कई बार चावल खाते हैं, यह उन लोगों के लिए स्वास्थ्य जोखिम पैदा कर सकता है, क्योंकि उन्हें काफी मात्रा में आर्सेनिक मिल सकता है। हम सब चावल खाना बंद तो नहीं कर सकते लेकिन अपने बेहतर स्वास्थ के लिए इसे खाना कम जरूर कर सकते हैं। 

 

 

 

Podcast

TWN In-Focus