'नर्क के कुएं' का रहस्य

1866
28 Sep 2021
4 min read

News Synopsis

नर्क के कुएं कहे जाने वाले गढ्ढे के नाम से विख्यात, Well of Barhout  जो कि यमन में स्थित है। जहाँ पहली बार एक खोजकर्ता ने जाने की हिम्मत की और वो सफल भी रहे। जिसके बाद उन्हें अंदर जाने पर कई तरह के झरने और सांपों के झुंड मिले। इस कुएं का खौफ इतना ज्यादा है कि इसके आसपास ग़लती से भी कोई व्यक्ति नहीं भटकता। जब खोजकर्ता इस कुएं के अंदर प्रवेश कर रहे थे तो लोग दूर से ही खड़े इस घटना को देखते रहे हालांकि वह बाहर निकलने में भी सफल रहे। इस पूरे प्रकरण को अंजाम देने में जियोलॉजी के प्रोफेसर- अल- किंडी ने मुख्य भूमिका निभाई। इस कुएं का व्यास 98 फीट व गहराई 367 फीट तक बताई जा रही है।

Podcast

TWN Opinion