ट्विटर विवाद में एलन मस्क को कोर्ट से नहीं मिली राहत

249
20 Jul 2022
9 min read

News Synopsis

टेस्ला के सीईओ एलन मस्क लंबे समय से ट्विटर को खरीदने को लेकर सुर्खियां बटोर रहे थे। फिलहाल अब उन्होंने ट्विटर के साथ हो रही अपनी 44 बिलियन डॉलर डील को कैंसिल कर दिया है। ऐसे में अब यह मामला कोर्ट में पहुंच गया है। जहां एलन मस्क को किसी प्रकार की कोई राहत मिलते नहीं दिख रही है। 19 जुलाई के दिन डेलावेयर जज ने एलन मस्क को झटका देते हुए ट्विटर और मस्क के बीच विवाद के मामले की सुनवाई अक्टूबर से शुरू करने के आदेश दिए हैं।

आपको बता दें कि कोर्ट में एलन मस्क की ओर से मामले में फरवरी तक का समय मांगा गया था, वहीं अदालत ने मस्क की मांग को ठुकराते हुए ट्विटर की मांग पर विचार करते हुए मामले का ट्रायल अक्टूबर से शुरू किए जाने की बात कही है। इस बारे में डेलावेयर में कोर्ट ऑफ चांसरी के चांसलर कैथलीन मैककॉर्मिक ने कहा कि ट्रायल में देरी करने से ट्विटर को नुकसान बताया है। ट्रायल के लिए मस्क की ओर से फरवरी महीने में दो सप्ताह के ट्रायल की मांग रखी गई थी, वहीं ट्विटर ने सितंबर के अंत में चार दिवसीय ट्रायल की मांग की थी।

गौरतलब है कि कि 44 बिलियन डॉलर के साथ एलन मस्क ने ट्विटर को खरीदने का ऐलान किया था। जिसके बाद ट्विटर के शेयर में भारी उछाल देखा गया था। वहीं बीते दिनों जब एलन मस्क ने ट्विटर डील को रद्द किए जाने की घोषणा की थी, तो ऐसे में ट्विटर के शेयरों में 11 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई थी। मस्‍क का आरोप है कि ट्विटर ने स्‍पैम अकाउंट की सही जानकारी उनके साथ शेयर नहीं की है। ट्विटर का कहना है कि उसके प्‍लेटफॉर्म पर 5 फीसदी स्‍पैम अकाउंट spam account  है।

लास्ट अपडेटेड- 19/07/2022 

ट्विटर Twitter द्वारा टेस्‍ला के मालिक एलन मस्‍क Elon Musk के अगेंस्ट दायर मुकदमे की आज सुनवाई होगी। मामले की सुनवाई करने वाले जज के कोरोना पॉजिटिव होने के कारण यह मुकदमा ऑनलाइन सुना जाएगा। आपको बता दें कि यह सुनवाई कुल 90 मिनट होगी। इस समय में ही ट्विटर और मस्‍क Twitter and Musk के वकील अपना-अपना पक्ष रखेंगे। डेलावेयर कोर्ट ऑफ चांसरी जज Delaware Court of Chancery Judge कैथलीन मैककॉर्मिक Kathleen McCormick इस मामले की सुनवाई करेंगी।

ट्विटर ने अरबपति उद्योगपति एलन मस्क पर 44 अरब डॉलर में कंपनी का अधिग्रहण Company Acquisition पूरा करने के लिए एलन मस्क पर डेलावेयर कोर्ट Delaware Court में मुकदमा दायर किया है। ट्विटर ने कोर्ट से इस मामले की त्‍वरित सुनवाई की मांग की है। वहीं दूसरी ओर मस्‍क इस मामले को लंबा खींचने के मूड में हैं। एक रिपोर्ट के अनुसार, कोर्ट में जमा कराए गए दस्‍तावेजों में ट्विटर ने आरोप लगाया है कि मस्‍क कंपनी द्वारा दायर किए गए मुकदमे को लंबा चलाने के प्रयास कर रहे हैं।

इस बारे में ट्विटर का कहना है कि मस्‍क द्वारा फैलाए गए भ्रम के कारण मिलियंस ट्विटर शेयरों का भविष्‍य future of Twitter shares अंधकारमय हो रहा है। ट्विटर ने मस्‍क पर केस कर न्‍यायालय से मांग की है कि ट्विटर के विलय के लिए मस्‍क को आदेश दिया जाए। ट्विटर का कहना है कि अगर सितंबर में ट्रायल शुरू नहीं हुआ तो कंपनी को कई मुश्किलों का सामना करना पड़ेगा।

Podcast

TWN In-Focus