गर्मी का आम की पैदावार पर असर, बढ़ेंगे दाम 

1881
14 Apr 2022
7 min read

News Synopsis

ज्यादा गर्मी और कुछ राज्यों में बिन मौसम बारिश ने आम Mango की फसल Crop को हानि पहुंचाई है, जिससे पिछले साल की अपेक्षा आम की पैदावार Yield कम रहने की उम्मीद है और इस वजह से आम के दाम बढे हुए हैं। हापुस Hapus दशहरी Dussehri और केसर Kesar आम की प्रजातियों के उत्पादन पर बारिश Rain और आंधी Thunderstorm का गहरा असर पड़ा है, जिससे इसकी पैदावार करीब आधी रहने की उम्मीद है।

देशभर Countrywide की थोक कृषि मंडियों Wholesale Agriculture Markets से बिक्री के आंकड़े रखने वाले सरकारी पोर्टल एगमार्कनेट Government Portal Agmarknet के अनुसार, इस माह तक भारत भर में आम के औसत दाम पिछले साल से 42 प्रतिशत अधिक है। रत्नागिरी Ratnagiri की 10  किलो की पेटी का दाम अभी 1,200-1,500 रुपए है, जबकि पिछले साल यह कीमत मात्र 700-800 रुपए थी। औरंगाबाद Aurangabad के उत्कर्ष कृषि के निदेशक Director of Utkarsh Agriculture अभय आचार्य Abhay Acharya ने बताया कि हापुस का दाम वजन के हिसाब से तय होता है और सबसे ज्यादा मांग इसी प्रजाति के आम की होती है। गिर जिले के किसानों का कहना है कि इस साल तूफ़ान और बारिश से आम की फसल बुरी तरह प्रभावित हुई है। जिससे इसका उत्पादन मात्र 15 से 20 प्रतिशत ही हो पायेगा। वहीं दूसरी ओर उत्तर प्रदेश Uttar Pradesh में पड़ रही तेज गर्मी ने आम की फसल को बड़े स्तर पर क्षति पहुंचाई है।

Podcast

TWN In-Focus