DGCA Action: डीजीसीए ने उड़ान प्रशिक्षण संगठनों की निगरानी बढ़ाई, लगेंगे कैमरे

57
24 Nov 2022
min read

News Synopsis

DGCA Action: भारत India के विमानन नियामक Aviation Regulator नागर विमानन महानिदेशालय Directorate General of Civil Aviation (DGCA) ने प्रशिक्षण गतिविधियों Training Activities पर निगाह रखने के लिए उड़ान प्रशिक्षण संगठनों की निगरानी बढ़ाने का निर्णय लिया है। इसके के लिए उड़ान प्रशक्षिण संगठनों Flying Training Organizations के परिसरों में हाई रिजॉल्यूशन कैमरे High Resolution Cameras लगाने समेत कई अन्य उपाय किए जाएंगे।

विमानन क्षेत्र के नियामक डीजीसीए ने निर्देश दिया है कि फ्लाइंग ट्रेनिंग ऑर्गनाइजेशन ((FTO) को प्रशिक्षण उड़ानों के डेटा की निगरानी करते हुए इसे रिकॉर्ड करना चाहिए। डीजीसीएक के मुताबिक, उन्हें कम से कम 25 प्रतिशत उड़ान डेटा Flight Data का दैनिक आधार पर विश्लेषण किया जाना चाहिए। यह कदम प्रशिक्षण उड़ानों से जुड़ी घटनाओं के साथ-साथ कुछ व्यक्तियों की ओर से प्रशिक्षण के दौरान अधिकृत उड़ान योजना का पालन नहीं करने की घटनाओं के बाद उठाया गया है। इस साल अगस्त के अंत में 35 एफटीओ थे।

नागरिक उड्डयन महानिदेशालय (डीजीसीए) ने एक परिपत्र में जानकारी देते हुए कहा है कि उपरोक्त कदम का उद्देश्य संचालन की सुरक्षा के साथ-साथ प्रशिक्षण गुणवत्ता में सुधार करते हुए एफटीओ की उड़ान और जमीनी प्रशिक्षण गतिविधियों पर निगरानी बढ़ाना है। विमानन नियामक डीजीसीए के मुताबिक उड़ान प्रशिक्षण गतिविधियों Flying Training Activities की उचित दृश्यता सुनिश्चित करने के लिए सभी एफटीओ को अपने परिसरों में उच्च रिज़ॉल्यूशन के कैमरे लगाने चाहिए।

22 नवंबर को जारी सर्कुलर के मुताबिक कैमरों को एप्रन क्षेत्र, हैंगर व टैक्सीवे Hangars & Taxiways के साथ रनवे,कक्षाओं,परीक्षा कक्ष और उन क्षेत्रों में लगाए जाने चाहिए जहां उड़ान प्राधिकरण अधिकृत हैं।

Podcast

TWN In-Focus