5जी स्पेक्ट्रम में इस मामले को लेकर सीओएआई ने उठाए सवाल

401
15 Jul 2022
6 min read

News Synopsis

दूरसंचार सेवा कंपनियों Telecom Service Companies पर लगाए नियामकीय अनुपालन और शुल्क ,Regulatory Compliance & Fees जैसा प्रावधान किए बिना निजी टेक कंपनियों Private Tech Companies को 5जी स्पेक्ट्रम 5G Spectrum देने की तैयारी जोर-सोर से चल रही है।  वहीं सीओएआई COAI ने कहा है कि कंपनियों को निजी उपयोग के लिए सरकार की ओर से 5जी नेटवर्क का आवंटन किया जाना सबको समान अवसर दिए जाने के सिद्धांत के खिलाफ है।

यह बड़ी टेक (प्रौद्योगिकी) कंपनियों को 5जी सेवाएं एवं समाधान देने को पिछले दरवाजे से प्रवेश देने जैसा मामला होगा। उद्योग संगठन सेल्यूलर ऑपरेटर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया Cellular Operators Association of India (सीओएआई) ने कहा कि, दूरसंचार सेवा कंपनियों पर लगाए नियामकीय अनुपालन और शुल्क जैसा प्रावधान किए बिना निजी टेक कंपनियों को 5जी स्पेक्ट्रम देने की तैयारी है।

सरकार 26 जुलाई से स्पेक्ट्रम की नीलामी शुरू करेगी। सीओएआई का यह बयान स्पेक्ट्रम की नीलामी Auction of Spectrum में अडाणी कंपनी के शामिल होने के बाद आया है। अडाणी समूह Adani Group 5जी स्पेक्ट्रम की नीलामी में शामिल होगा। वह स्पेक्ट्रम का उपयोग अपने कारोबार के लिए निजी नेटवर्क को खड़ा कर विस्तार करने में करेगा।

Podcast

TWN Exclusive