हिंदी शर्म नहीं, गर्व है

3823
14 Sep 2021
2 min read

News Synopsis

हिंदी दिवस के मौके पर गृह मंत्री अमित शाह ने हिंदी भाषा का बखान करते हुए कहा कि आत्मनिर्भर भारत की आत्मनिर्भर भाषा हिंदी राजकीय भाषा के साथ मातृभाषा भी है। जो हमारे संस्कृति और राष्‍ट्रीय एकता के साथ आधुनिक प्रगति की मूल आधार है। उन्होंने बताया कि भारत सरकार हिंदी भाषा और अन्य भाषाओं के विकास में निरन्तर कटिबद्ध है। गृह मंत्री अमित शाह ने आधुनिक युग के युवा पीढ़ी को हिंदी बोलने से शर्म महसूस होती है इस बात पर जोर देते हुए कहा कि हिंदी बोलने में किस बात कि शर्म जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अंतर्राष्ट्रीय मंचो पर शान से हिंदी भाषा का प्रयोग करते हैं। हिंदी हमारी माँ है और माँ की व्याख्या नहीं की जा सकती,शब्द कम पड़ने लगते हैं। अमित शाह के अलावा प्रधानमंत्री मोदी और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भी ट्वीट कर के हिंदी दिवस की शुभकामनाएं दीं. बता दें कि आज के दिन हिंदी भाषा को देश के आधिकारिक भाषा के रूप में 14 सितंबर 1949 को अपनाया गया था।बहुसंख्यक इसे भावनाओ में राष्ट्रभाषा के रूप में भी देखते है।

Podcast