जल्दबाजी में नौकरी ना छोड़े...

1934
30 Oct 2021
5 min read

Post Highlight

आज हम आपको इस लेख के माध्यम से यह बताने की कोशिश करेंगे कि अगर आप किसी अच्छी खासी नौकरी में हैं और आपके मन में यह ख्याल चलता है कि यह नौकरी छोड़कर मुझे और अच्छी नौकरी मिल जाएगी, तो थोड़ा संभालकर विचार करें, जल्दबाजी में नौकरी ना छोड़े।

Podcast

Continue Reading..

कई बार नौकरी करते वक्त कुछ ऐसे उतार-चढ़ाव आते हैं कि आपको लगता है अब यह नौकरी और नहीं चलने वाली। मुझे यह नौकरी जरूर छोड़ देनी चाहिए। अक्सर ऐसे विचार दिमाग में तब आते हैं जब हम कुछ बातों को लेकर विचलित होते हैं। ऑफिस में कई ऐसे मसले होते हैं, जहां पर हमें सामंजस्य बिठाकर काम करना होता है, लेकिन कई बार देखा जाता है कि ऑफिस में आपसी विवाद या फिर अधिकारियों से अनबन के चलते जल्दबाजी में कुछ फैसला लेकर आप अपना ही नुकसान कर लेते हैं। 

अगर आप भी जल्दबाजी में फैसला लेते हैं, अगर नौकरी को लेकर आप यह सोच रहे हैं कि मैं इस नौकरी को छोड़ कर किसी अच्छी नौकरी को हासिल कर लूंगा, तो जरा ठहर जाएं, क्योंकि जल्दबाजी में लिया गया फैसला शायद आपको और भी बड़ी हानि पहुंचा सकता है। आज हम आपको इस लेख के माध्यम से यह बताने की कोशिश करेंगे कि अगर आप किसी अच्छी खासी नौकरी में है और आपके मन में यह ख्याल चलता है कि यह नौकरी छोड़कर मुझे और अच्छी नौकरी मिल जाएगी, तो थोड़ा संभालकर विचार करें। जल्दबाजी में नौकरी ना छोड़े

मामले पर अच्छी तरह विचार करें

अगर आप नौकरी छोड़ने का इरादा बना रहे हैं तो उस मामले पर पूर्ण विचार करें। जिस मामले पर आप चिंतित हैं और सोच रहे हैं कि नौकरी आप को रास नहीं आ रही है। अगर मसला आपके सहकर्मियों से जुड़ा है तो उसे एक बार समझाने की कोशिश जरूर करें। हो सकता है कि जिस मसले को आप बड़ा समझकर नौकरी छोड़ना चाहते हैं, वह मसला बातों से ही सुलझ जाए। जब चलती हुई नौकरी में बात बन सकती है, तो नए सफर पर निकलने की भला क्या जरूरत है। 

बड़े अधिकारियों से अनबन है तो मौका जरुर दें

अगर आप के दफ्तर में आपके बड़े अधिकारियों से आपकी अनबन हो गई है और आप सोच रहे हैं कि इसका सिर्फ नौकरी छोड़ने से हल निकल जाएगा, तो यह गलत है, क्योंकि हर दफ्तर में आपको अधिकारियों से अनबन का सामना करना पड़ सकता है। ऐसा जरूरी नहीं कि नए दफ्तर में आपकी किसी से अनबन नहीं होगी। एक बार अपने आप को मौका जरूर दें और सोचे कि अगर इस नौकरी में कुछ मुद्दे परेशान कर रहे हैं तो अगली नौकरी में भी कर सकते हैं। विचार करके ही फैसला लें कि आप को नई नौकरी के बारे में सोचना है या नहीं।

नकारात्मक होकर जल्दबाजी ना करें

अक्सर जब आपका नौकरी छोड़ने का मन बनता है तो आप अपने पूरे दफ्तर को लेकर नकारात्मक हो जाते हैं। इस नकारात्मकता के प्रभाव से आप नौकरी छोड़ने के लिए आतुर हो बैठते हैं, लेकिन आपको यह विचार करना होगा कि अगर इस नौकरी में परेशानी आ रही है तो आने वाली किसी भी नौकरी में परेशानी आ सकती हैं। 

दिमाग से यह विचार निकल दें

लाखों लोगों के दिमाग में यह विचार घूमता रहता है कि नई नौकरी में सब कुछ अच्छा हो जाएगा, लेकिन कई विशेषज्ञों के मुताबिक नई नौकरी पाने को लेकर इंसान अच्छा जरूर महसूस करता है, लेकिन हर नौकरी में नई चुनौतियां होती है और हो सकता है कि पुरानी नौकरी के बारे में जो बात आपको खटकती हों, वह आपको नई नौकरी में उससे भी ज्यादा बुरी लगने लगें। किसी भी नई चीज के लिए दिमाग अच्छा ही सोचता है, लेकिन नौकरी के मामले में थोड़ा सतर्क रहें। अपने दिमाग के इस फितूर को निकालें कि नई नौकरी में सब कुछ अच्छा ही होगा। अगर आप जल्दबाजी में फैसला लेकर नौकरी छोड़ देंगे, तो आपको निराशा ही हाथ लगेगी। 

कई बार नौकरी छोड़ देने के बाद आपके मन में यह ख्याल आता है कि मुझे पुरानी नौकरी में ही रहना चाहिए था। इस तरह के ख्याल से बचाने के लिए हम आपको यह जानकारी दे रहे थे। अगर आपके पास कोई अच्छी नौकरी का अवसर है तो जरूर उसका हिस्सा बने, लेकिन बस जल्दबाजी में नौकरी ना छोड़े।

TWN In-Focus