दुनिया के कुछ अहम Ecological प्रोजेक्ट्स

1970
20 Nov 2021
8 min read

Post Highlight

जलवायु संकट से एकजुट होकर पूरी दुनिया को एक साथ काम करना है। क्योंकि जलवायु सभी को एक समान रूप से प्रभावित करती है, और इसलिए हमें पारिस्थितिक संतुलन को बचाने के लिए मिलकर काम करना चाहिए। यहां पांच बड़े पैमाने पर अंतरराष्ट्रीय पारिस्थितिक परियोजनाएं International ecological projects हैं जो बड़े पैमाने पर बदलाव लाती हैं। ऐसे ही बड़े स्तर पर हमे जलवायु संकट पर काम करना होगा तभी हम सुरक्षित रह सकते हैं।

Podcast

Continue Reading..

संयुक्त राष्ट्र UN की हालिया रिपोर्ट बताती है कि 2030 तक, पृथ्वी के तापमान में पर्याप्त वृद्धि होगी। भले ही यह खबर कई लोगों के लिए एक झटके के रूप में हो, लेकिन इसके संकेत काफी समय से दिए जा रहे हैं। इसमें यह भी बताया गया कि अगर समय रहते कुछ नहीं किया गया तो दुनिया भर में लगभग 1 मिलियन पौधों और प्रजातियों के विलुप्त होने का खतरा है। हमारा पर्यावरण गंभीर खतरे में है, और हमें इसका खामियाजा भुगतना पड़ेगा।

ये अच्छी बात है कि विश्व स्तर पर कई संगठन पर्यावरण की वर्तमान स्थिति में बदलाव लाने और इसे अपनी सर्वोत्तम क्षमताओं में पर्यावरण को बचाने का कार्यभार संभाल रहे हैं। ये संगठन विभिन्न देशों से हमारे पर्यावरण को बचाने की हमारी लड़ाई में एक साथ आने का आह्वान कर रहे हैं। पेश हैं दुनिया भर से ऐसी बड़ी पारिस्थितिक परियोजनाएं ecological projects जो बड़े पैमाने पर बदलाव ला रही हैं।

1. महान हरी दीवार The Great Green Wall

अफ्रीका Africa में 2007 में शुरू की गई, द ग्रेट ग्रीन वॉल एक अफ्रीका-आधारित परियोजना है जिसका उद्देश्य महाद्वीप के साहेल क्षेत्र में पारिस्थितिक संतुलन balancing को संतुलित करना है। साहेल क्षेत्र पिछले कुछ वर्षों में सूखा और बंजर हो गया है, और ग्रेट ग्रीन वॉल परियोजना Great Green Wall project का लक्ष्य 100 मिलियन हेक्टेयर खराब भूमि को बचाना और दुनिया में 10 मिलियन से अधिक हरित रोजगार पैदा करना है। इस परियोजना का लक्ष्य लगभग 250 मिलियन टन कार्बन को अलग करना भी है। 2007 से इस परियोजना ने इथियोपिया और नाइजीरिया Ethiopia and Nigeria दोनों में लाखों हेक्टेयर भूमि को बचाने में मदद की है।

2. पेरू अमेज़ॅन Peruvian Amazon

यह एक परियोजना है जिसे 2008 में पेरू की कंपनी Bosques Amazonicos SAC द्वारा लॉन्च किया गया था। पेरुवियन अमेज़ोनिया Peruvian Amazonia अमेज़न Amazon के जंगल का एक क्षेत्र है जो वनों की कटाई और भूमि क्षरण से पूरी तरह से नष्ट हो गया था। कंपनी स्थानीय किसानों को स्थायी रूप से भोजन उगाने के लिए प्रशिक्षित करने के लिए परियोजना लाई। इन वर्षों में, यह परियोजना स्थायी खेती के एक सफल मॉडल के रूप में विकसित हुई है। कार्यक्रम ने दुनिया भर में ऐसी कई परियोजनाओं को प्रेरित किया है।

3. मेडेन आइलैंड रीफ Maiden Island Reef

मेडेन आइलैंड रीफ पिछले कुछ वर्षों में कुछ प्राकृतिक कारणों के कारण बहुत अधिक नुकसान से गुजरा है।1995 में, तूफान लुइस ने चट्टान के हिस्से को नष्ट कर दिया था और शहरीकरण और औद्योगीकरण से भी काफी नुकसान हुआ है। यहाँ कई कृत्रिम रीफ़ गेंदों का उपयोग किया गया था जो एक प्राकृतिक चट्टान की संरचना से मिलती जुलती हैं।

4. पाकिस्तान का पेड़ सुनामी Pakistan's Tree Tsunami

खैबर पख्तूनख्वा की सरकार ने 2014 में 'बिलियन ट्री सुनामी' 'Billion Tree Tsunami' की शुरुआत की थी। इसका उद्देश्य इस क्षेत्र में एक अरब पेड़ लगाना था। परियोजना बड़े पैमाने पर थी और निर्धारित समय से पहले ही पूरी हो गई थी। इस परियोजना ने रोपण और प्राकृतिक पुनर्जनन के माध्यम से 350,00 हेक्टेयर पेड़ जोड़े। इस परियोजना का उद्देश्य कार्बन डाइऑक्साइड Carbon dioxide के स्तर को कम करना और स्थानीय लोगों को रोजगार के अवसर प्रदान करना है। कहने की जरूरत नहीं है कि यह परियोजना एक बड़ी सफलता थी, इतना ही नहीं 2018 में सरकार ने पूरे क्षेत्र में 10 अरब पेड़ लगाने की योजना शुरू की।

5. एबरडेयर्स रिहैबिलिटेशन प्रोजेक्ट The Aberdares Rehabilitation Project

एबरडेयर्स नेशनल पार्क Aberdares National Park केन्या Kenya का आखिरी बचा हुआ जंगल है। यह क्षेत्र पानी का प्राथमिक स्रोत हुआ करता था, लेकिन औद्योगीकरण के कारण पार्क को काफी नुकसान हुआ था। इससे हुई क्षति ऐसी थी कि क्षेत्र को बचाने के लिए एक पूरी परियोजना शुरू की गई थी। इसे एबरडेयर्स रिहैबिलिटेशन प्रोजेक्ट कहा गया। यह परियोजना 2006 में ग्रीन बेल्ट मूवमेंट Green Belt Movement in 2006 द्वारा शुरू की गई थी। इस परियोजना का उद्देश्य भूजल के स्तर को बचाने के लिए पेड़ लगाना था।

TWN In-Focus