सौर ऊर्जा, भविष्य की कुंजी

2449
20 Oct 2021
5 min read

Post Highlight

सौर ऊर्जा, ऊर्जा का एक मुफ्त स्रोत है। सूर्य हमें उतनी ऊर्जा प्रदान करता है जितना हम कभी उपयोग नहीं कर सकते हैं, और कोई भी सूर्य के प्रकाश पर एकाधिकार नहीं कर सकता है। सौर ऊर्जा प्रणाली चालू होने के क्षण से ही पैसे की बचत करना शुरू कर देती है, हालांकि, लंबी अवधि में सौर ऊर्जा के फायदे सबसे अच्छे दिखाई देते हैं। सौर ऊर्जा एक शक्तिशाली ऊर्जा संसाधन है जो घरों के लिए उपयुक्त बिजली प्रदान कर सकता है।

Podcast

Continue Reading..

सौर ऊर्जा एक स्वच्छ ऊर्जा भविष्य की कुंजी है। सूरज पूरी दुनिया की ऊर्जा जरूरतों को पूरा करने के लिए पर्याप्त से अधिक ऊर्जा प्रदान करता है और जीवाश्म ईंधन के विपरीत, यह जल्द ही समाप्त होने की कगार पर है।‌‌ 

इसलिए सोलर प्लांट में भारी निवेश करना आज आवश्यक हो गया है। एक अक्षय (renewable) ऊर्जा स्रोत के रूप में यह कुशल और लागत प्रभावी तरीके से  बिजली जरूरतों को पूरा करने में सक्षम है। साथ ही यह पर्यावरण के अनुकूल, पारंपरिक बिजली से सस्ता, और इनका उपयोग कम से कम भूमि का उपयोग करता है। इसका बढ़ता उपयोग अर्थव्यवस्था सुधार में भी सहायक होता है और यह अधिक से अधिक रोजगार उत्पन्न करने में भी सक्षम है। इसलिए पारंपरिक बिजली प्रणाली जो कोयले और जीवाश्म ईंधनों का उपयोग कर बिजली उत्पन्न करती है, पर्यावरण के लिए हानिकारक है और हमारे संसाधनों की भी अधिक खपत करती है। वहीँ सोलर ऊर्जा बिल्कुल इसके विपरीत है इसलिए इसका उपयोग सबसे उत्तम है।

सौर ऊर्जा- पर्यावरण के लिए बेहतर

सौर ऊर्जा पृथ्वी पर सबसे प्रचुर ऊर्जा संसाधनों में से एक है। यह एक अक्षय ऊर्जा संसाधन है जो घर की जरूरतों के लिए उपयुक्त बिजली प्रदान कर सकता है। यह आजकल लोकप्रियता में भी लगातार बढ़ रहा है क्योंकि यह मानव और पर्यावरण को महत्वपूर्ण लाभ प्रदान कर सकता है।

एक गृहस्वामी के रूप में, सौर ऊर्जा का उपयोग एक स्वच्छ भविष्य में योगदान करने का एक शानदार तरीका है। अक्षय संसाधन एक स्वच्छ और सुरक्षित वैकल्पिक ऊर्जा समाधान है जो हानिकारक प्रदूषण के उत्पादन को कम करने में मदद कर सकता है। इसलिए, सौर ऊर्जा का उपयोग जलवायु परिवर्तन से लड़ने और अपने घर के कार्बन पदचिह्न (फुटप्रिंट)को कम करने में मदद करने का एक शानदार तरीका हो सकता है। वित्तीय लाभों के अलावा, अन्य प्रासंगिक कारण भी हैं जिनकी वजह से सौर ऊर्जा का उपयोग किया जा सकता है। 

सौर ऊर्जा को अपनाने के कई फायदे हैं जो इसे एक उत्कृष्ट वैकल्पिक ऊर्जा संसाधन बनाते हैं।

1. सौर ऊर्जा पर्यावरण के अनुकूल

सौर (सोलर) ऊर्जा के बारे में सबसे अधिक ज्ञात तथ्य यह है कि यह ऊर्जा के स्वच्छ, हरित स्रोत का प्रतिनिधित्व करता है। सौर ऊर्जा कार्बन फुटप्रिंट को कम करने का एक शानदार तरीका है। सौर ऊर्जा किसी भी तरह से प्रकृति को प्रदूषित नहीं करती है। सौर ऊर्जा ग्रीनहाउस गैसों का निष्कासन नहीं करती और कार्य करने के लिए स्वच्छ पानी के स्रोत के अलावा अन्य संसाधनों का उपयोग नहीं करता है। इसलिए, यह सुरक्षित और पर्यावरण के अनुकूल मानी जाती है। घर की छतों पर सौर पैनल स्थापित करना एक स्थायी भविष्य में योगदान करने का एक सुरक्षित और आसान मार्ग है। और यह पर्यावरण के अनुकूल है।

2. कम लागत

सौर ऊर्जा के उपयोग में वृद्धि का सबसे बड़ा कारण इसकी लागत में कमी है। पारंपरिक बिजली कोयले और प्राकृतिक गैस जैसे जीवाश्म ईंधन पर बहुत अधिक निर्भर करती है। ये न केवल पर्यावरण के लिए हानिकारक हैं, बल्कि यह संसाधन सीमित भी हैं। सौर ऊर्जा, बिजली की स्वतंत्रता को बढ़ाती है। घरों में सोलर पैनल लगाने से सुरक्षित उर्जा का आनंद लिया जा सकता है और इनकी दरों में वृद्धि नहीं होती है। साथ ही यह रात और बरसात के दिनों में सोलर बैटरी स्टोरेज सिस्टम के द्वारा बिजली स्टोर करने में भी मदद करता है।

3.  कम भूमि का उपयोग

सौर ऊर्जा की बढ़ती आवश्यकता के साथ, यह आज सभी के लिए आसानी से सुलभ हो गया है। बड़े शहरों या राजधानियों से दूर भूमि जिनका उपयोग नहीं होता है, उन भूमिओं पर सौर ऊर्जा का उपयोग करके मूल्य उत्पन्न किया जा सकता है। सौर ऊर्जा सभी के लिए शक्ति का स्रोत प्रदान करती है। साथ ही सौर ऊर्जा कम उपयोग की गई भूमि का उपयोग करती है।

4. कम बिजली की हानि 

बिजली को बड़े बिजली संयंत्रों से अंतिम उपभोक्ताओं तक पहुंचाने के लिए व्यापक नेटवर्क की आवश्यकता होती है। लंबी दूरी के लिए बिजली प्रसारण में समान बिजली का नुकसान होता है। सोलर‌ पैनल सूर्य से ऊर्जा प्राप्त कर घरों में बिजली प्रदान करते हैं। रूफटॉप सोलर पावर कम दूरी को देखते हुए बिजली दक्षता बढ़ाने में मददगार होते हैं। यह घरों में स्वयं के बिजली बिलों और ऊर्जा उपयोग को नियंत्रित करने का मौका देते हैं। इसके अलावा, सौर ऊर्जा प्रणालियां टिकाऊ होती हैं जिससे इनकी सेवा में रुकावट की संभावना कम हो जाती हैं।

5. रोजगार और आर्थिक विकास ‌में सहायक

हमारी राष्ट्रीय अर्थव्यवस्था को सौर ऊर्जा से मदद मिल सकती है। जितने अधिक लोग सोलर का विकल्प चुनते हैं, उतनी ही अधिक कंपनियों को सोलर पैनल लगाने का अवसर मिलता है। यह कुशल श्रमिकों के लिए अतिरिक्त रोजगार पैदा करता है, और इसके परिणामस्वरूप अर्थव्यवस्था बढ़ती रहती है। उदाहरण के तौर पर 2015 में, यूके 35,000 लोगों के साथ दूसरा सबसे बड़ा सौर नियोक्ता बन गया, और महाद्वीप का सबसे बड़ा सौर फोटोवोल्टिक (पीवी) पैनल स्थापना बाजार बन गया।

TWN In-Focus