धनतेरस पर इन चीजों की खरीदारी मानी‌ जाती है शुभ

1336
26 Oct 2021
9 min read

Post Highlight

पांच दिवसीय दिवाली के त्योहार का‌ पहला‌ दिन‌ धनतेरस के नाम से जाना जाता है। इसे सुख-समृद्धि ‌लाने वाला पर्व माना जाता है और हिन्दू धर्म में इसका बहुत बड़ा महत्त्व होता है। देवी लक्ष्मी को प्रसन्न करने और घर लाने के लिए लोग उनकी पूजा करते हैं और आभूषणों की खरीदारी करते हैं। लेकिन सोना चांदी के साथ-साथ कुछ अन्य चीजें भी धनतेरस पर घर में लाने के लिए शुभ मानी जाती हैं।

Podcast

Continue Reading..

पांच दिवसीय दिवाली के त्योहार का‌ पहला‌ दिन‌ धनतेरस के नाम से जाना जाता है। इसे सुख-समृद्धि ‌लाने वाला पर्व माना जाता है और हिन्दू धर्म में इसका बहुत बड़ा महत्त्व होता है। देवी लक्ष्मी को प्रसन्न करने और घर लाने के लिए लोग उनकी पूजा करते हैं और आभूषणों की खरीदारी करते हैं। लेकिन सोना चांदी के साथ-साथ कुछ अन्य चीजें भी धनतेरस पर घर में लाने के लिए शुभ मानी जाती हैं। झाड़ू,अक्षत, धनिया, मोती, शंख आदि चीजें देवी लक्ष्मी का प्रतीक मानी‌ जाती हैं। सोना चांदी के अलावा यह चीज़ें घर को धन-धान्य से परिपूर्ण करने के लिए अच्छा संकेत देती है। इसलिए जो लोग सोना चांदी आभूषण खरीदने में असमर्थ होते हैं, वह इन चीजों को खरीद सकते हैं।

धनतेरस का महत्त्व

धनतेरस जिसे धनत्रयोदशी और धनवंतरी त्रयोदशी के नाम से भी जाना जाता है, अपने साथ शुभ और वैभव लाता है। यह पांच दिवसीय दिवाली त्योहार के उत्सव की शुरुआत का दिन होता है। हिंदू धर्म का यह अत्यंत महत्तवपूर्ण त्योहार माना जाता है। हिंदू लोग इस दिन भगवान कुबेर और देवी लक्ष्मी की पूजा करते हैं। 'धन' का अर्थ है 'संपदा', और यह भी माना जाता है कि समुद्र मंथन के दौरान देवी लक्ष्मी इस दिन सोने और धन के एक बर्तन के साथ समुद्र से निकली थीं। यही कारण है कि इस दिन लोग अपने घरों में समृद्धि लाने के लिए आभूषण और घरेलू सामानों में निवेश करते हैैं। यह सोने के आभूषण और नए बर्तन खरीदने के लिए शुभ दिन माना जाता है। लेकिन सोना-चांदी या आभूषणों के अलावा कुछ ऐसी चीज़ों भी हैं, जिन्हें धनतेरस पर खरीदना शुभ माना जाता है।

1. पीतल

जो धनतेरस के दिन सोना-चांदी खरीदने में समर्थ न हों, उनके लिए पीतल की कोई वस्तु खरीदना भी शुभ माना जाता है। सोने और चांदी के बाद पीतल धातु को सबसे शुभ माना जाता है।

2. अक्षत

शास्त्रों के अनुसार अक्षत यानि धान/चावल को भी बहुत शुभ बताया गया है। अक्षत का अर्थ है धन में अनंत वृद्धि। इसलिए धनतेरस पर चावल‌ खरीदना शुभ होता है।

3. झाड़ू

झाड़ू को देवी लक्ष्मी का रूप माना जाता है और ऐसा माना जाता है कि झाड़ू को घर लाना मां लक्ष्मी को घर लाने जैसा होता है। झाड़ू से हम अपने घर की सफाई करते हैं और घर की सारी नकारात्मकता को दूर करते हैं। इसलिए झाड़ू का बहुत खास महत्त्व होता है।

4. धनिया

धनतेरस के दिन धनिया खरीदना बहुत ही शुभ माना जाता है। ऐसा माना जाता है कि यह धन में वृद्धि का संकेत देता है। धनतेरस के दिन धनिया लाकर लक्ष्मी जी को अर्पित करना चाहिए और उसमें से कुछ को गमले में भी बोना चाहिए। ऐसा माना जाता है कि धनिये के पौधे को उगाने से घर में साल भर सुख-समृद्धि बनी रहती है।

5. श्री यंत्र

श्री यंत्र को नवोनी चक्र भी कहा जाता है और यह यंत्र हिंदू शास्त्रों में महत्त्वपूर्ण स्थान रखता है। ऐसा माना जाता है कि यह धारक के जीवन में धन और भाग्य को आकर्षित करता है। धनतेरस या दिवाली के दिन इस यंत्र की स्थापना करना बहुत ही शुभ माना जाता है। 

6. मोती शंख

मोती शंख को देवी लक्ष्मी का बहुत प्रिय माना जाता है। धनतेरस के दिन इसे खरीदने से घर में धन और समृद्धि आती है। धार्मिक मान्यता के अलावा इसके औषधीय गुण भी होते हैं। रात‌ भर इसमें पानी भरकर‌ रखने से और ‌त्वचा पर‌ इसका‌ इस्तेमाल करने से चर्म रोगों से मुक्ति मिलती है और इसका सेवन पेट की समस्या को दूर करता है।

धनतेरस पर उपर्युक्त दी गई चीजों की खरीदारी, घर में सुख-समृद्धि लाने के लिए अच्छा विकल्प हो सकती है। सोना-चांदी खरीदने में असमर्थ लोगों के लिए अपनी दिवाली धन-धान्य से परिपूर्ण करने और घर में वैभव लाने के लिए अच्छी साबित हो सकती हैं।

TWN In-Focus