गुणों की खान, फूलों की पहचान

5620
03 Sep 2021
9 min read

Post Highlight

प्रकृति हमें असीमित संसाधनों से सहेजे रखती है, यह हम पर निर्भर करता है कि हम उन संसाधनों का किस-किस रूप में उपयोग कर पाते हैं। फूलों ने हमेशा ही अपने गुणों से मनुष्य को ख़ुशी और सूकून देने का प्रयास किया है। केवल इसकी मौजूदगी ही कितनों के चहरे पर मुस्कान ला देती है और दिल को सुकून की नैया पर बैठाकर पूरे जीवन को ख़ुशी से पार करा देती है। 

Podcast

Continue Reading..

इंसानों की प्रवृत्ति ऐसी होती है कि उसकी आँखों को जो भा जाए वो उन्हीं चीजों को अपने आस-पास रखने की कोशिश करता है। दुनिया में ऐसी कई चीजें हैं जो उसे खूबसूरत बनाती हैं। प्रकृति ने हमें ऐसे कई वरदान दिए हैं जिसे देखकर, समझकर हमें बहुत सुकून मिलता है। कहते हैं किसी भी सवाल का जवाब उसी सवाल में ही छिपा होता है। प्रकृति भी इसी सिद्धांत को अपना आदर्श मानती है। अपने अंदर ना जाने कितने ही आश्चर्यजनक सवालों और जवाबों को अपने भीतर सहेजे रखती है। प्रकृति ने हमें फूलों के रूप में एक बड़ा ही खूबसूरत तोहफा दिया है। जो दुनिया को खूबसूरत तो बनाती ही है, साथ में हमें अपने गुणों से लाभ भी पहुंचाती है। फूल दुनिया में मौजूद ऐसी प्रजाति है जिसकी जरूरत हर घर, हर भवन में होती है। केवल भवन में ही नहीं खुले स्थानों पर भी यह अपनी मौजूदगी दर्ज कराता है। पूरी दुनिया में फूलों की खपत का कोई हिसाब नहीं है। फूल सबकी जरूरत होते हैं, परन्तु फूलों की बागबानी कर पाना सबके बस की बात नहीं होती है। अगर हम इसकी गुणवत्ता की बात करने लगे तो हम सबके पास शायद शब्दों की कमी पड़ जाये। फूलों का पूरा व्याख्यान हो पाएगा या नहीं यह तो मालूम नहीं परन्तु हम अपनी जानकारी साझा तो कर ही सकते हैं, तो क्यों ना आज फूलों की महत्ता और उसकी जरूरतों के बारे में कुछ बात किया जाए।

पूजा में फूलों की अधिक महत्ता  

हमारे देश में फूलों की बड़ी महत्ता है और हो भी क्यों ना आख़िरकार हम इसके बिना भगवान की पूजा को अधूरा जो मानते हैं। हमने तो यह भी तय कर रखा है कि किस भगवान को कौन सा फूल चढ़ाया जायेगा। किस अवसर पर कौन सा फूल इस्तेमाल होगा। हर चीज के लिए फूलों को श्रेणी में बांटा गया है। फूलों को हम उसके सुंगंधित होने के कारण भी इस्तेमाल में लाते हैं। हम अपने घर के बगीचे में फूलों को लगाते हैं ताकि हम अपने घर को और सुन्दर बना सकें।

औषधियों की गुणवत्ता बढ़ाता 

फूलों की यह खासियत होती है कि वह सबको अपनी तरफ आकर्षित करती है। इसके आलावा कई फूल तो अपने अंदर औषधि का भी गुण रखते हैं, जिसका उपयोग बड़े-बड़े रोगों में भी किया जाता है। फूलों की मदद से कई प्रकार की दवाइयां बनाई जाती हैं। फूलों की खुशबू इतनी आकर्षक होती है कि इसका इस्तेमाल इत्र बनाने के लिए भी किया जाता है। अलग-अलग फूलों के माध्यम से विभिन्न प्रकार के खुशबूदार इत्र तैयार किये जाते हैं। 

ख़ुशी और गम दोनों का साथी 

हम जब भी कहीं पर किसी शुभ घड़ी में शामिल होने जाते हैं कि तो हमारी पहली पसंद फूल को ही साथ ले जाना होता है, क्यूंकि हम ये जानते हैं कि ये इकलौती ऐसी चीज है जो सबको पसंद आती है। और किसी शुभ घड़ी में अपने घर को, उस स्थान को फूलों से ही सजवाते हैं, चूँकि वो सबको पसंद आता है। हर पल में फूल हमारी खुशियों में शामिल होते हैं। इसके विपरीत जब कोई गम का माहौल होता है तो भी हम कुछ चुनिंदा फूलों को ही उस घड़ी में चुनते हैं क्योंकि फूल उस समय के लिए भी सही विकल्प समझ आता है, जो कि मन को शांति और सुकून पहुंचाने का माध्यम बनता है।  

स्वाद को और बढ़ाता फूल  

कितनी हैरानी की बात है कि एक ही चीज कितने तरीकों से इस्तेमाल की जा सकती है। फूल को हम कई स्वादिष्ट मिठाइयां बनाने में भी उपयोग में लाते हैं। इसके साथ ही कई पकवानों में भी फूलों का इस्तेमाल किया जाता है। गुलाब के फूल की पत्तियों से तो हम खाने के लिए गुलकंद भी बनाते हैं जो खाने में बहुत स्वादिष्ट होता है। खाने को सजाने में भी फूलों का इस्तेमाल किया जाता है ताकि खाने की सुंदरता को और बढ़ाया जा सके।

TWN In-Focus