जानें क्या है Metaverse Technology?

827
13 Aug 2022
6 min read

Post Highlight

आज हम आपको बतायेगे की मेटावर्स क्या है। मेटावर्स का नाम आप में से बहुत से लोगों ने सुना होगा। पिछले साल सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म (Social Media Platforms) Facebook ने अपने नाम बदलकर Meta कर लिया था। जिसके बाद यह कहा गया था, कि कंपनी अब अपना फोकस मेटावर्स टेक्नोलॉजी (Metaverse Technology) पर करेगी। इसके बाद से ही मेटावर्स नाम चर्चा में आया और अब धीरे-धीरे लोगों के बीच इसका उपयोग भी किया जा रहा है। आप में से भी कई लोगों ने मेटावर्स का नाम सुना होगा, लेकिन कुछ ऐसे लोग भी हैं जिन्हें शायद मेटावर्स को लेकर कंफ्यूजन है, या फिर पता ही नहीं है कि आखिर मेटावर्स (Metaverse) क्या है और कैसे काम करता है? आज हम इसी तकनीक (Technique) के बारे में डिटेल से बात करेंगे। आइए जानते हैं क्या है मेटावर्स (What Is Metaverse) और कैसे करता है काम? और मेटावर्स की किसने उत्पत्ति की है आदि पॉइंट्स पर इस आर्टिकल के अंदर चर्चा करेंगे। 

Podcast

Continue Reading..

आज का यह दौर जिसमें तकनीक का बोलबाला है, जहां तकनीक की मदद से कुछ भी होना संभव है, आज हम जिस मेटावर्स (Metaverse) तकनीक की बात करने जा रहे हैं, जो आपको भविष्य में कुछ ऐसा ही अनुभव करवा सकता है। आने वाले भविष्य में मेटावर्स (Metaverse) की दुनिया एक ऐसी दुनिया होगी, जहां आप पल भर में कुछ तकनीकी उपकरणों (Technical Equipment) की मदद से वर्चुअल दुनिया (Virtual world) में कदम रख सकेंगे। 

मेटावर्स क्या है? (What is Metaverse)

फेसबुक के सीईओ मार्क ज़ुकरबर्ग (Facebook CEO Mark Zuckerberg) इसे वर्चुअल दुनिया बताते हैं। अब तक आप वर्चुअल वर्ल्ड को अपने मोबाइल पर वीडियो की मदद से देखते थे, लेकिन मेटावर्स (Metaverse) काफी अलग होगा। ज़ुकरबर्ग के मुताबिक वर्चुअल कम्युनिटी (Virtual community) की एक ऐसी दुनिया होगी जहां लोग आपस में मिलजुल कर बात कर सकेंगे, काम कर सकेंगे, खेल सकेंगे। मेटावर्स भविष्य (Metaverse future) की एक टेक्नोलॉजी (Technology) है। जिससे हमारी असली दुनिया और वर्चुअल दुनिया एक दुसरे से कनेक्ट हो जाएगी और हम असली दुनिया में होते हुए वर्चुअल दुनिया में जी सकते है। वर्चुअल दुनिया का मतलब है, कि आभासी दुनिया (Virtual World) इस आभासी दुनिया के अंदर हम एक दूसरे को महसूस कर पाएंगे और हमें यह लगेगा कि जिस व्यक्ति से हम बात कर रहे हैं। वह बिल्कुल हमारे पास में बैठा है, जैसे कि वीडियो कॉल (Video call)  में हम सिर्फ व्यक्ति की चेहरा देख सकते हैं। लेकिन इस वर्चुअल दुनिया के अंदर हम उस व्यक्ति को महसूस भी कर पाएंगे।

Metaverse शब्द को किसने और कब बनया

मेटावर्स शब्द को नील स्टीफेंसन (Neal Stephenson) के द्वारा बनाया गया और यह एक राइटर थे, उन्होंने सबसे पहले मेटवर्स शब्द का उपयोग अपनी बुक में सन् 1992 में किया था और उस समय पर मेटावर्स शब्द सिर्फ एक कल्पना के रूप में उस बुक के अंदर लिखा गया था लेकिन आज के समय में महान साइंटिस्टो (Great scientist) और अच्छी कंपनियों ने मिलजुल कर मेटावर्स को हकीकत बनाने की ओर कदम रख दिया है, और हो सकता है आने वाले कुछ सालों में हमें मेटावर्स देखने को मिल जाए।

मेटावर्स कैसा नज़र आने वाला? (What will the metaverse look like) 

मेटावर्स आखिर दिखने में कैसा होगा मेटावर्स के बारे में हमने अन्य जानकारी तो काफी हासिल कर लिए लेकिन अभी तक हमने आपको यह जानकारी नहीं दी कि मेटावर्स दिखने में कैसा होगा तो चलिए जानते हैं, कि आखिर यह कैसा दिखाई देने वाला है।

अवतार (Avatar)

Avatars का मतलब होता है 3D Representations या प्रतिरूप असली लोगों के। वहीं, metaverse में भी, यूजर अपने हिसाब से कस्टमाइज्ड अवतार (Customized avatars) तैयार कर सकते हैं। और उसे हम अपने हिसाब से मॉडिफाई (Modify) कर सकते हैं, और मेटावर्स के अंदर आप अपने अवतार को किसी दूसरे अवतार के साथ इंटरैक्ट (Interact) कर सकते हैं।

आसानी से अलग-अलग Components के भीतर आ जा सकते हैं

आज का समय ऐसा है कि हम बहुत सी जगह पर मेटावर्सों के Components का इस्तेमाल करते हैं लेकिन फिर भी ऐसी जगह की कमी है जो की हमें उसी अवतार में हर जगह आने जाने की सुविधा दे।

इंटरोऑपरेबिलिटी (Interoperability) 

मेटावर्स ऐसी दुनिया है जिसके अंदर हम हमारे डाटा और कॉन्टेक्ट Contact को कहीं पर भी ले जा सकते हैं, जैसे उदाहरण के तौर पर अगर आप मेटावर्स यानी वर्चुअल दुनिया (Virtual World) के अंदर कोई भी सामान खरीद लेते हैं, तो आप उसे कहीं पर भी लेकर जा सकते हैं।

मेटावर्स काम कैसे करेगा (How will the metaverse work)

मेटावर्स किस प्रकार से काम करेगा मेटावर्स एक ऐसी ही टेक्नोलॉजी है जो आने वाले समय में हमें एक वर्चुअल दुनिया यानी आभासी दुनिया का एहसास कराएगी मेटावर्स के अंदर हमें 3D एनिमेशन (3D animation) के जरिए हर एक चीज का रियल तरीके से एहसास कराया जाएगा मानो कि वह चीजें हमारे पास ही है, और यह 3D एनीमेशन इतने रियल तरीके से दिखाया जायेगा जिससे कि हमें ऐसा एहसास ही नहीं होगा कि हम किसी आभासी दुनिया में है, हमें बिल्कुल ऐसा लगेगा कि हम रियल में काम कर रहे हैं, तो दोस्तों कुछ इस प्रकार से मेटावर्स आने वाले समय में काम करेगा।

Also Read : क्या है Business Ethics ? और इसकी महत्ता ?

मेटावर्स कब तक संभव है

मेटावर्स को लॉन्च (Metaverse launch)  करने का भी कोई निश्चित समय नहीं बताया गया है, क्योंकि मेटावर्स एक बहुत ही बड़ा प्रोजेक्ट है। और इस पर बड़ी-बड़ी कंपनियां बड़े जोर शोर से काम कर रही है, और जब यह प्रोजेक्ट पूरा कंप्लीट हो जाएगा तब इस प्रोजेक्ट को हमारी जिंदगी में लाया जाएगा। और आने वाले समय में यह प्रोजेक्ट हमें जल्द ही देखने को मिलेगा जिससे कि हमारी जिंदगी में बहुत ही ज्यादा बदलाव देखने को मिलेंगे।

मेटावर्स आने से किस प्रकार से हमारी जिंदगी बदलेगी

जब हमारी जिंदगी में मेटावर्स प्रवेश करेगा तो हमें हमारी जिंदगी में इतने ज्यादा बदलाव देखने को मिलेंगे जिसे हमने कभी सोचा भी न था, और जो व्यक्ति अपने सपने रियल लाइफ (Real life) में पूरे नहीं कर सका वह मेटावर्स की मदद से अपने हर एक सपने को पूरा कर पाएगा और वह वर्चुअल दुनिया के अंदर हर एक काम कर पाएगा जो वह अपनी रियल लाइफ में नहीं कर सका।

मेटावर्स की मदद से हम हमारी लाइफ में ऐसे काम कर पाएंगे जिसे हमने कभी सपने में भी सोचा नहीं होगा, जैसे कि किसी व्यक्ति का सपना है, बाहर देश घूमने का लेकिन वह अपने घर के हालात ठीक न होने के कारण बाहर देश नहीं घूम सकता तो वह अपने सपने को पूरा मेटावर्स की दुनिया में कर पाएगा। वह मेटावर्स में हर एक जगह घूम पाएगा जंहा वह जाना चाहता है।

ऐसी वर्चुअल दुनिया में क्या-क्या होगा संभव

इस नई वर्चुअल मेटावर्स (Metaverse) दुनिया को लेकर माना जा रहा है कि आप अपने घर बैठे सारी दुनिया की सैर कर सकेंगे। अगर आप अपने घर पर बैठे हैं, और चाहते हैं कि कश्मीर की वादियों में घूम सकें तो यह भी आपके घर बैठे कुछ तकनीकी उपकरणों (Technical equipment) से संभव हो जाएगा। इस तरह की तकनीक में आप डिजिटल क्लॉथिंग (Digital Clothing) की दुनिया में प्रवेश कर जाएंगे, यानी फिजिकली आप अपने घर में मौजूद होंगे लेकिन आपका दिमाग डिजिटल उपकरणों (Digital devices) की मदद से वर्चुअल दुनिया में प्रवेश कर जाएगा।

मेटावर्स के कुछ उदाहरण (Some Examples of Metaverse)

अब आपको Metaverse क्या है और कैसे दिखने वाला है के बारे में बहुत कुछ मालूम हो गया होगा। अब चलिए जानते हैं की ऐसे ही कुछ उदाहरण जहां आपने पहले ही Metaverse को इस्तमाल होते हुए देख लिया है।

रेडी प्लेयर वन (Ready Player One)

असल में यह एक किताब है, जो की काफ़ी चर्चित भी हुआ था। इसमें लेखक ने metaverse जैसे एक virtual दुनिया का ज़िक्र किया था। वहीं इसके ऊपर एक फ़िल्म भी बन चुकी है, एक ऐसी फिल्म जिसमें की आपको कुछ ऐसी ही प्रकार की दुनिया देखने को मिलेगी।

Fortnite

पिछले कुछ वर्षों में, Fortnite के CEO, टिम स्वीनी ने, Fortnite को केवल एक खेल से अधिक के रूप में स्थापित करने के लिए स्पष्ट संदर्भ दिए हैं। 2020 में, Fortnite के भीतर रैपर ट्रैविस स्कॉट (Rapper travis scott) के वर्चुअल कॉन्सर्ट में 12.3 मिलियन लोगों ने भाग लिया, जिससे यह खेल का अब तक का सबसे बड़ा कार्यक्रम बन गया।

Facebook’s Horizon

Facebook अपनी विस्तारित VR दुनिया, क्षितिज (Currently in beta) के साथ खुद को मेटावर्स की ओर बढ़ा रहा है। फेसबुक क्षितिज (Facebook Horizon) को “एक सामाजिक अनुभव के रूप में वर्णित करता है। जहां आप वीआर में दूसरों के साथ एक्सप्लोर कर सकते हैं, खेल सकते है ।

निष्कर्ष (Conclusion)

मेटावर्स इतनी ज्यादा एडवांस टेक्नोलॉजी होने वाली है कि इसके अंदर आने वाले समय में हम हर एक चीज को रियल तरीके से महसूस कर पाएंगे जैसे कि अगर हमारा दोस्त किसी दूसरी कंट्री के अंदर बैठकर या फिर किसी अन्य जगह पर बैठकर पार्टी कर रहा है, तो मेटावर्स के जरिए हम उसके साथ पार्टी में शामिल हो पाएंगे। और हमें ऐसा एहसास होगा कि हम भी उस पार्टी के अंदर हैं, या फिर आप जो भी काम करना चाहे वह वर्चुअल दुनिया के जरिए कर सकते हैं। तो अब आपको शायद पता चल गया होगा कि मेटावर्स क्या है।

TWN Special