जानिये महिला उद्यमी और पूंजीपति वाणी कोला के बारे में

2940
21 Mar 2022
7 min read

Post Highlight

आज समय बहुत बदल गया है। अब महिलायें बुद्धि का इस्तेमाल करके पुरुषों से आगे निकलने में कामयाब हो गयीं हैं। ऐसी बहुत सी महिलायें हैं जिन्होंने अभूतपूर्व कार्य करके देश और दुनिया में अपना नाम रोशन किया है और इसके साथ ही सबके लिए प्रेरणास्रोत भी बनी हैं। उन्ही में से एक हैं एक भारतीय महिला उद्यमी और पूंजीपति वाणी कोला। वाणी भारतीय प्रारंभिक चरण की उद्यम पूंजी फर्म, कलारी कैपिटल की संस्थापक और प्रबंध निदेशक हैं। वाणी कोला को उनके द्वारा दिए गए इन्वेस्टिंग टिप्स के लिए जाना जाता है और लोग उनके पास इन्वेस्टिंग टिप्स लेने के लिए आते हैं।

Podcast

Continue Reading..

आज कई महिलाओं ने एक सफल उद्यमी entrepreneur बनकर नाम कमाया है। अपनी महान उपलब्धियों के कारण आज वो महिलायें हर इंसान के लिए प्रेरणास्रोत हैं। कोई भी महिला अगर चाहे तो सब कुछ कर सकती है, उसके लिए कुछ भी असंभव नहीं है। अपने जोश, जूनून और जज्बे से वो हर मुश्किल राह को भी आसान बना देती है। भारत की एक नहीं बल्कि कई महिलायें ऐसी हैं जिन्होंने अपने कार्य और योगदान से सिर्फ भारत में ही नहीं बल्कि पूरे संसार में अपना लोहा मनवाया है, हर कोई उन्हें सलाम करता है। आज महिलायें हर क्षेत्र में आगे हैं। ऐसी ही एक महिला उद्यमी और पूंजीपति Entrepreneur and Capitalist हैं वाणी कोला Vani Kola जिन्होंने अपने कार्यों के दम पर हर महिला के लिए एक मिसाल पेश की है। 

वाणी कोला का प्रारंभिक जीवन

वाणी कोला का जन्म हैदराबाद Hyderabad में हुआ था। उन्होंने इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग Electrical engineering में डिग्री के साथ स्नातक की पढ़ाई उस्मानिया विश्वविद्यालय Osmania University से पूरी की। तब वह 400 इंजीनियरिंग छात्रों में से छह लड़कियों में से एक थी। फिर वह यूएसए USA चली गईं और एरिज़ोना स्टेट यूनिवर्सिटी Arizona State University से मास्टर डिग्री पूरी की। इसके बाद उन्होंने कई प्रसिद्ध कंपनियों के साथ प्रौद्योगिकी क्षेत्र में काम किया जैसे एम्प्रोस, कंट्रोल डेटा कॉरपोरेशन और कॉन्सिलियम इंक। वाणी ने करीब 12 वर्षों तक एक कर्मचारी के रूप में काम किया और 1996 में उन्होंने अपना पहला व्यावसायिक उद्यम- राइटवर्क्स RightWorks स्थापित किया। कोला आज भारत में सबसे अधिक मांग वाले उद्यमियों में से एक है। वैसे भी Entrepreneurship उद्यमिता के लिए दी गई सलाह काफी कीमती होती है। जब वह सलाह किसी उद्यमी पूंजीदाता (venture capitalist) विशेषकर वाणी कोला के द्वारा दी गई हो तो फिर वह सलाह अनमोल हो जाती है। हर कोई सोचता है कि वाणी कोला में ऐसा क्या है जो उन्हें अन्य सफल महिलाओं से अलग रखता है। तो इसका एक ही जवाब है उनके द्वारा दिए गए Investing Tips अनमोल इनवेस्टिंग टिप्स। लोग उन्हें उनके इन्वेस्टिंग टिप्स के लिए सर्च करते हैं और मिलने पर उनसे उनके इनवेस्टमेंट टिप्स के बारे में जानना चाहते हैं। आज उन्हें देश का सबसे सफलतम इनवेस्टर most successful investor माना जाता है। 

वाणी कोला की सफल जीवन की कहानी 

कोला का सिलिकॉन वैली Silicon Valley में लगभग 22 साल का करियर था । वाणी कोला एक सीरियल उद्यमी और ई-प्रोक्योरमेंट कंपनी राइटवर्क्स Founder and CEO of RightWorks की संस्थापक और सीईओ थीं। राइटवर्क्स के संस्थापक के रूप में 4 साल पूरे करने के बाद, वाणी ने कंपनी के 53% शेयर को 657 मिलियन डॉलर में बेच दिया, जिसमें नकद और स्टॉक दोनों शामिल हैं, वाणी ने इसे Internet Capital Group इंटरनेट कैपिटल ग्रुप ICG को बेचा। उन्होंने सेर्टस नाम का एक सॉफ्टवेयर Certus software भी लॉन्च किया था। वह सर्टस सॉफ्टवेयर की संस्थापक और सीईओ थीं। कोला 2006 में सिलिकॉन वैली में एक उद्यमी के रूप में अपने सफल करियर के बाद, एक उद्यम पूंजी फर्म शुरू करने के लिए भारत आ गयी। वाणी युवा उद्यमियों के साथ काम करने के लिए भारत वापस आ गयी। भारत आ कर वह समझ गयी थी कि भविष्य में उनके लिए अब आगे क्या है। उन्होंने लोगों को समझने और जानने की कोशिश की। 

उन्होंने सिलिकॉन वैली स्थित उद्यमी विनोद धाम और इंटेल कैपिटल इंडिया के पूर्व प्रमुख कुमार शिरालागी Kumar Shiralagi former head of Intel Capital India के सहयोग से 2006 में Indo-US Venture Partners इंडो-यूएस वेंचर पार्टनर्स (आईयूवीपी) की स्थापना की। उन्होंने न्यू एंटरप्राइज एसोसिएट्स (एनईए) द्वारा समर्थित फंड में $ 189 मिलियन का शुभारंभ किया। New Enterprise Associates न्यू एंटरप्राइज एसोसिएट्स (एनईए) के साथ साझेदारी में भारत में उद्यम पूंजी में उनका प्रारंभिक उपक्रम था। 2011 में, कोला ने शिरालागी के साथ फर्म को रीब्रांड किया और इसे कलारी कैपिटल Kalaari Capital के रूप में फिर से ब्रांडेड किया गया। धाम से अलग होने के बाद कलारी संपत्ति के हिसाब से भारत की दूसरी सबसे बड़ी फर्म बन गयी साथ ही और एक महिला द्वारा चलाई जाने वाली सबसे बड़ी कंपनी भी बनी। मुख्यतः कलारी पूंजी का निवेश भारत में शुरुआती चरण के प्रौद्योगिकी-उन्मुख स्टार्ट-अप पर ध्यान केंद्रित करने के लिए किया गया था। वह एक प्रौद्योगिकी-केंद्रित प्रारंभिक चरण की निवेशक हैं। वाणी कोला की फर्म, कलारी कैपिटल ने भारत में ई-कॉमर्स, मोबाइल सर्विसेज और हेल्थकेयर सेवा E-Commerce, Mobile Services and Healthcare Services में 50 से अधिक कंपनियों में निवेश का नेतृत्व किया है। वह फ्लिपकार्ट ऑनलाइन सर्विसेज प्राइवेट सहित 60 से अधिक स्टार्ट-अप में हिस्सेदारी रखती है। वह वैश्विक कंपनियों के निर्माण के लिए उद्यमियों के साथ काम करती है, उनके कुछ मुख्य उद्यम पूंजी प्रयासों में जैसे ड्रीम11, अर्बन लैडर Urban Ladder अर्बन लाडर, Snapdeal and Myntra स्नैपडील और मिंत्रा। इसके अलावा उनके कुछ प्रमुख निवेशों में VIA, Apps Daily ऍप्स डेली, Zivame जिवामे, Power2SME और Bluestone ब्लुएस्टॉन आदि हैं। 

वित्तीय सफलता के लिए वाणी कोला की रणनीतियाँ

आज महिलाओं ने व्यापार जगत के कार्य करने के तरीके को पूरी तरह बदल दिया है। महिलाएं घर और कार्यस्थल दोनों जगह पर उत्कृष्ट प्रदर्शन कर रही हैं। आज महिलाओं ने सिर्फ भारत में ही नहीं बल्कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भी महान उपलब्धि हासिल की है। वाणी कोला एक भारतीय महिला उद्यमी और पूंजीपति हैं। वह एक भारतीय प्रारंभिक चरण की उद्यम पूंजी फर्म, कलारी कैपिटल Kalari Capital की संस्थापक और प्रबंध निदेशक हैं। उन्हें 2014 में फॉर्च्यून इंडिया द्वारा भारतीय व्यवसाय में सबसे शक्तिशाली महिलाओं में से एक के रूप में सूचीबद्ध किया गया था। आज उद्यमी वाणी कोला इस बात का सबूत हैं कि महिलाएं अगर चाहे तो सब कुछ कर सकती हैं। उनकी ख्याति और प्रसिद्धि आज दुनिया भर में प्रसिद्ध है। महिलाएं उनके काम और सफलता से प्रभावित होकर प्रेरित हो रही हैं। कोला आज भारत में सबसे अधिक मांग वाले उद्यमियों में से एक है। वाणी को सर्वश्रेष्ठ के लिए मिडास टच अवार्ड Midas Touch Award से सम्मानित किया गया था।

इनके इन्वेस्टिंग टिप्स कीमती नहीं, अनमोल हैं। उनके पास लोग उनसे, उनके सफलता के राज जानने के लिए नहीं बल्कि उनसे इन्वेस्टिंग टिप्स लेने के लिए आते हैं। यदि वाणी कोला से आपको कोई चीज समझनी है तो उनकी वित्तीय सफलता के लिए ये रणनीतियाँ है कि आपको आपके लक्ष्यों और महत्वाकांक्षाओं के बारे में यथार्थवादी होना है। वित्तीय सफलता आप तभी प्राप्त कर सकते हैं जब आप दृढ़ संकल्प और आत्म-जागरूक हों, यदि आप एक इन्वेस्टर या एक उद्यमी हैं तो आपको आत्म-जागरूकता का अभ्यास करना होगा। वाणी कोला का मानना है कि संचार, व्यवसाय के विकास और वित्तीय सफलता में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। अन्य रणनीतियाँ जैसे -ई-मेल करना सीखें और पर्सनली मेल करें, फॉलोअप लें, अपने और अपने सेक्टर के पॉजिटिव और नेगेटिव चीजों की लिस्ट बनाएं। 

 Think with Niche पर आपके लिए और रोचक विषयों पर लेख उपलब्ध हैं एक अन्य लेख को पढ़ने के लिए कृपया नीचे  दिए लिंक पर क्लिक करे-

लाखों लोगों की प्रेरणास्रोत: सशक्त उद्यमी महिलाएं

https://www.author.thinkwithniche.com/allimages/project/thumb_55e29inspiration-of-millions-strong-women-entrepreneurs-.jpg

TWN In-Focus