जानिये कलिंग इंस्टीट्यूट ऑफ इंडस्ट्रियल टेक्नोलॉजी के बारे में

1552
03 Mar 2022
6 min read

Post Highlight

कलिंग इंस्टीट्यूट ऑफ इंडस्ट्रियल टेक्नोलॉजी (KIIT) द्वारा प्रदान की गई शिक्षा की रैंकिंग, नवाचार, अनुसंधान, प्रशिक्षण और गुणवत्ता से पूर्ण शिक्षा के कारण इस विश्वविद्यालय का अपना एक नाम है और सिर्फ भारत में ही नहीं बल्कि दुनिया भर में अपनी एक अलग प्रतिष्ठा बनाई है। KIIT के संस्थापक डॉ. अच्युत सामंत के समर्पण का परिणाम है कि कलिंग इंस्टीट्यूट ऑफ इंडस्ट्रियल टेक्नोलॉजी (KIIT) ने रिकॉर्ड कैंपस प्लेसमेंट हासिल किया है और यह भारत में शीर्ष क्रम के निजी विश्वविद्यालयों में गिना जाता है। 

Podcast

Continue Reading..

आजकल हर कोई चाहता है कि वह किसी अच्छी यूनिवर्सिटी University या किसी अच्छे संस्थान से पढ़ाई करे। शिक्षा प्राप्त करने के लिए आज के समय में बहुत बड़े-बड़े और अच्छे संस्थान उपलब्ध हैं और इन संस्थानों में एडमिशन लेना हर किसी का सपना होता है। ऐसे ही कलिंग इंस्टीट्यूट ऑफ इंडस्ट्रियल टेक्नोलॉजी (KIIT) केआईआईटी जो कि भारत में शीर्ष क्रम के निजी विश्वविद्यालयों में से एक है। यहाँ न सिर्फ पढ़ाई होती है बल्कि यह कई उपलब्धियों को प्राप्त करने वाला एक उच्च दर्जे का संस्थान भी बन चुका है। चलिए विस्तार से जानते हैं कलिंग इंस्टीट्यूट ऑफ इंडस्ट्रियल टेक्नोलॉजी (KIIT) के बारे में। 

KIIT की स्थापना और अन्य जानकारी

कलिंग इंस्टीट्यूट ऑफ इंडस्ट्रियल टेक्नोलॉजी Kalinga Institute of Industrial Technology (केआईआईटी) एक निजी विश्वविद्यालय है और इसकी स्थापना 1992 में डॉ अच्युत सामंत Dr. Achyuta Samanta ने की थी। यह भुवनेश्वर, ओडिशा Bhubaneswar, Odisha में स्थित है। कलिंग विश्वविद्यालय भुवनेश्वर NAAC, NBA और IET द्वारा मान्यता प्राप्त है। विश्वविद्यालय चिकित्सा, इंजीनियरिंग, जैव प्रौद्योगिकी, प्रबंधन, कानून, कंप्यूटर अनुप्रयोग, ग्रामीण प्रबंधन, फिल्म अध्ययन, पत्रकारिता और फैशन Medicine, Engineering, Biotechnology, Management, Law, Computer Application, Rural Management, Film Studies, Journalism and Fashion आदि पाठ्यक्रमों में स्नातक और स्नातकोत्तर प्रदान करता है। केआईआईटी कॉलेज ओडिशा के छात्र टॉप कंपनियों द्वारा चुने जाते हैं क्योंकि KIIT छात्रों को औद्योगिक प्रशिक्षण industrial Training भी प्रदान करता है। KIIT डीम्ड होने के लिए यूनिवर्सिटी ने द टाइम्स हायर एजुकेशन वर्ल्ड यूनिवर्सिटी रैंकिंग The Times Higher Education World University Rankings 2019 में एक प्रभावशाली शुरुआत की है और जिसे बहुत ही प्रतिष्ठित विश्वविद्यालय reputed university माना जाता है। KIIT द्वारा छात्रों को दी गयी अच्छी शिक्षा की रैंकिंग और गुणवत्ता Ranking and quality of good education के कारण 40 से ज्यादा अलग अलग देशों के छात्रों ने कलिंगा विश्वविद्यालय भुवनेश्वर में अलग अलग पाठ्यक्रमों में एडमिशन लिया है। केआईआईटी को यूजीसी और एनआईआरएफ द्वारा मान्यता प्राप्त है। इसे भारत में शीर्ष क्रम के निजी विश्वविद्यालयों में से एक माना जाता है। साथ ही कलिंग इंस्टीट्यूट ऑफ इंडस्ट्रियल टेक्नोलॉजी AICTE द्वारा स्वीकृत है और NAAC द्वारा Institute A ग्रेड से मान्यता प्राप्त है। KIIT में 30,000 से अधिक छात्र शिक्षा प्राप्त कर रहे हैं। 2004 में इसे भारत में सबसे कम उम्र में विश्वविद्यालय बनने के कारण इसे लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड Limca Book of Records से सम्मानित किया गया था। 

विभिन्न विषयों के पाठ्यक्रम और वैश्विक रैंकिंग

केआईआईटी विश्वविद्यालय कंप्यूटर विज्ञान, इंजीनियरिंग, व्यवसाय प्रबंधन, चिकित्सा विज्ञान, जैव प्रौद्योगिकी, प्रबंधन, कानून आदि जैसे विभिन्न विषयों में कई पाठ्यक्रम प्रदान करता है। विश्वविद्यालय चिकित्सा, इंजीनियरिंग, जैव प्रौद्योगिकी, प्रबंधन, कानून, कंप्यूटर अनुप्रयोग, ग्रामीण प्रबंधन, फिल्म अध्ययन, पत्रकारिता और फैशन, आदि पाठ्यक्रमों में स्नातक और स्नातकोत्तर प्रदान करता है। कलिंगा इंस्टीट्यूट ऑफ इंडस्ट्रियल टेक्नोलॉजी द्वारा प्रस्तावित सभी कार्यक्रमों के लिए एमबीबीएस, बीडीएस, पीजी मेडिकल और पीजी डेंटल को छोड़कर KIITEE (KIIT प्रवेश परीक्षा) के माध्यम से प्रवेश दिया जाता है और एमबीबीएस, बीडीएस, पीजी मेडिकल और पीजी डेंटल पाठ्यक्रमों में प्रवेश NEET के माध्यम से किया जाता है। यह संस्थान सार्वजनिक स्वास्थ्य और अस्पताल प्रशासन में मास्टर डिग्री भी प्रदान करता है। वहीं वैश्विक रैंकिंग में KIIT को बहुत ही प्रभावशाली स्थान प्राप्त है। KIIT अपनी स्थापना के बाद से सभी शैक्षणिक कार्यक्रमों में लगभग पूर्ण प्लेसमेंट full placement दर्ज कर रहा है और इसको सरकार द्वारा 'प्रतिष्ठित संस्थान' के रूप में मान्यता मिली है। इस साल की बात करें तो इस साल, 'डे ज़ीरो' ड्रीम कैंपस ड्राइव के जरिए बहुराष्ट्रीय कंपनियों द्वारा लगभग 1500 छात्रों को 8.10 लाख प्रति वर्ष औसत सीटीसी का ऑफर मिला है। साथ ही भारत के टाइम्स हायर एजुकेशन times higher education (THE), QS, और NIRF जैसे विश्वविद्यालयों की विभिन्न राष्ट्रीय और वैश्विक रैंकिंग में KIIT को प्रभावशाली स्थान प्राप्त हुआ है। इसके अलावा 'डे-वन' कैंपस रिक्रूटमेंट ड्राइव में चार कंपनियों से लगभग 2000 जॉब ऑफर दिए गए है।

कैंपस प्लेसमेंट और स्कालरशिप 

KIIT एक ऐसा विश्वविद्यालय है जो उद्योग में कई जानी-मानी कंपनियों के साथ जुड़ा हुआ है। कई राष्ट्रीय और बहुराष्ट्रीय कंपनियों में KIIT के छात्रों को नियुक्ति दी जाती है। जैसे High Radius ने KIIT के 700 से अधिक छात्रों को 8 लाख रुपए का पैकेज के साथ प्लेसमेंट दिया है। इस साल पिछले साल की तुलना में 30 प्रतिशत अधिक सीटीसी मिला है। KIIT के पांच छात्रों को 52 लाख रुपए प्रति वर्ष सबसे अधिक सीटीसी के साथ प्लेसमेंट ऑफर मिला है। 3000 से अधिक छात्रों को सिंगल प्लेसमेंट ऑफर मिला है। लगभग 1500 शीर्ष छात्रों की ड्रीम कंपनियों में नियुक्ति हुई है, जिनका औसत सीटीसी 8.10 लाख रुपए प्रति वर्ष है। इसके साथ ही 30 से 35 कंपनियों ने लगभग 10.00 लाख रुपए से अधिक प्रति वर्ष सीटीसी वाले ऑफर दिए हैं। इसके अलावा 130 से अधिक कंपनियों ने 5.00 लाख रुपये के सीटीसी का ऑफर दिए हैं। (KIIT) ने एक बहुत बड़ी उपलब्धि प्राप्त की है। कलिंग इंस्टीट्यूट ऑफ इंडस्ट्रियल टेक्नोलॉजी (KIIT) डीम्ड टू बी यूनिवर्सिटी, भुवनेश्वर ने 270 से अधिक शीर्ष कंपनियों की तरफ से 4200 से भी अधिक नौकरी के ऑफर पाकर रिकॉर्ड कैंपस प्लेसमेंट Record Campus Placement हासिल किया है। ये ऑफर बी.टेक छात्रों के 2022 बैच के 3500 उम्मीदवारों को दिया गया है। यह KIIT के अच्छी शिक्षा की रैंकिंग और गुणवत्ता का ही नतीजा है कि इस साल 50 नई कंपनियों ने प्लेसमेंट प्रक्रिया में हिस्सा लिया और इसने यह एक रिकॉर्ड बना दिया है। KIIT में कई तरह की स्कालरशिप Scholarship भी दी जाती है। जैसे गरीबी-सह-मेरिट छात्रवृत्ति जो कि गरीब और जरूरतमंद छात्रों के लिए प्रदान की जाती है। प्रद्युम्न बाल स्मारक छात्रवृत्ति जिसमें हर साल दो गरीब और मेधावी छात्रों को मुफ्त शिक्षा प्रदान की जाती है। साथ ही टीचिंग असिस्टेंटशिप प्रोग्राम और KIIT मेरिट छात्रवृत्ति आदि प्रदान की जाती है।

TWN In-Focus