Business में Information Technology का महत्व

12778
29 Mar 2023
6 min read

Post Highlight

आज के दौर में इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी (Information Technology) के बिना दैनिक जीवन की कल्पना ही बेकार है। यह समझना बहुत कठिन नहीं है कि सुचना प्रौद्योगिकी (Information Technology) हमारे दैनिक जीवन -साथ बिज़नेस यानी व्यवसाय को कितना प्रभावित करती है। आईटी हमारे द्वारा की जाने वाली लगभग हर चीज को प्रभावित करता है, जिसमें ऑनलाइन खरीदारी, पढाई, डॉक्टर के पास जाना, बैंकिंग और बाहर से खाना मॅगाना सब कुछ शामिल है। वास्तव में, व्यवसाय, उच्च शिक्षा, स्वास्थ्य सेवा, बैंकिंग, वित्त और खाद्य सेवा के उद्योगों में आईटी ने हमारे जीवन को सबसे अधिक प्रभावित किया है। जहाँ पहले के समय में जिस काम को करने में 8 से 10 घंटे लग जाते थे आज उसी कार्य को हम कुछ पल या कुछ सेकंड में कर लेते हैं और यह सब मुमकिन हुआ है तो सिर्फ इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी की मदद से। पहले के समय में किसी प्रकार की सूचना को कहीं पर प्रेषित करना होता था तो उसको पहुँचने में बहुत दिन लगते थे यानि किसी भी काम को करने में बहुत ज्यादा टाइम लगता था किंतु आज हम उसी काम को बहुत जल्दी कर सकते हैं। आज मोबाइल के द्वारा किसी के पास भी सूचना सेकंड में पहुंच जाती है।

आज के दौर में हम सब आधुनिकता की ओर आगे बढ़ रहे हैं, जहाँ संचार और प्रौद्योगिकी दोनों की ही आवश्यकता है। आज हर क्षेत्र, संस्थान, या कार्यालय में  IT और कंप्यूटर का प्रयोग होता ही है। इसके अलावा व्यापार क्षेत्र भी इससे अछूता नहीं रहा है। आज इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे कि व्यवसाय में इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी का क्या महत्त्व Importance of information technology in business है। 

Podcast

Continue Reading..

इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी (Information Technology) को आसान भाषा में हम आईटी ‘IT’ भी कहते हैं। सूचना प्रौद्योगिकी या इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी कई चीजें हो सकती है और जीवन के कई पहलुओं को कवर करती है। Information Technology को मेरियम-वेबस्टर परिभाषित करता है, "डेटा के प्रसंस्करण और वितरण के लिए कंप्यूटर सिस्टम, सॉफ्टवेयर और नेटवर्क के विकास, रखरखाव और उपयोग से जुड़ी प्रौद्योगिकी।" 

हालाँकि, यह परिभाषा आईटी को एक सख्त उपयोगितावादी उपकरण की तरह प्रतीत करती है। आईटी वास्तव में नवाचार के बारे में है। जैसा कि फोर्ब्स में कहा गया है, सूचना प्रौद्योगिकी का सही महत्व और उद्देश्य "संज्ञानात्मक विज्ञान, आनुवंशिकी, या चिकित्सा में नई तकनीकों का अनुसंधान और विकास करना" है, ताकि उन उन्नतियों से उन समस्याओं का समाधान मिल सके जिनका हम सभी सामना कर रहे हैं। यह वह नवाचार है जिसने विज्ञान के बाहर इतने सारे उद्योगों में सुधार की अनुमति दी है।

जब भी हम टेक्नोलॉजी (Technology) की बात करते हैं तो हमारे दिमाग में कंप्यूटर, लैपटॉप या स्मार्टफोन (Computer, Laptop, Smart Phone) आदि ही आते हैं, लेकिन हकीकत ये हैं कि टेक्नोलॉजी (Technology) का मतलब इन सबसे कहीं ज़्यादा है।

टेक्नोलॉजी (Technology) को हिन्दी में ‘प्रौद्योगिकी’ कहा जाता है। विज्ञान को किसी उद्देश्यपूर्ण कार्य के लिए इस्तेमाल करना प्रौद्योगिकी कहलाता है। टेक्नोलॉजी मनुष्य के द्वारा बनाई गयी ऐसी चीज़ है जो हर काम को आसान बना देती है। आज के समय में हम टेक्नोलॉजी (Technology) को बहुत तेज़ी से बढ़ते हुए देख रहे हैं और टेक्नोलॉजी के कारण ही हम कई सारीं आधुनिक सुविधाओं का इस्तेमाल कर पा रहे हैं, इसके साथ ही यह टेक्नोलॉजी हमारे काम करने के तरीके को भी बदल रही है और ज़्यादा आसान बना रही है।  

आज हमारे स्मार्ट फ़ोन, कंप्यूटर, इंटरनेट (Smart phone, Computer, Internet) ये सब हमारी ज़रूरत बन गए हैं। आज हम अपने आस-पास जितने भी टेक्निकल बदलाव (technical changes) देख रहे हैं वो सब इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी की वजह से ही संभव हुए है।  

इस आर्टिकल में, आपको व्यवसाय में सूचना प्रौद्योगिकी की क्या भूमिका के बारे में जानकारी उपलब्ध कराई गयी। जिस डिजिटल युग में रहते हैं, वहां सूचना प्रौद्योगिकी के लाभों को प्राप्त किए बिना दीर्घकालिक व्यावसायिक सफलता प्राप्त करना असंभव है। इसलिए व्यवसाय शुरू करने से पहले इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी के बारे में पूरी तरह से समझना बहुत आवश्यक है।

इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी का अर्थ  Meaning of information technology

इनफार्मेशन प्रौद्योगिकी का अर्थ है आवाज, डेटा और वीडियो का उपयोग करके सूचना का प्रबंधन और वितरण करने के लिए हार्डवेयर, सॉफ्टवेयर, सेवाओं और सहायक बुनियादी ढांचे का उपयोग। आम तौर पर, आईटी का उपयोग व्यावसायिक संचालन के संदर्भ में किया जाता है, जैसा कि व्यक्तिगत या मनोरंजन उद्देश्यों के लिए उपयोग की जाने वाली तकनीक के विपरीत होता है। आईटी के व्यावसायिक उपयोग में कंप्यूटर प्रौद्योगिकी और दूरसंचार दोनों शामिल हैं।अगर हम बात करें इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी (Information Technology) की, तो यह इनफार्मेशन यानि सूचना और टेक्नोलॉजी यानि प्रौद्योगिकी से जुड़ा है, इसे आज कल हर क्षेत्र में इस्तेमाल किया जा रहा है। इसमें इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस (electronic devices) या कंप्यूटर (computer) का इस्तेमाल करके अध्ययन किया जाता है। अगर हम बात करें बिज़नेस में इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी के इस्तेमाल की तो बिज़नेस में आजकल सभी काम कंप्यूटर और टेक्नोलॉजी के इस्तेमाल से ही किये जाते हैं।

कंप्यूटर के द्वारा किये जाने वाले काम या इससे जुड़ी हुई चीज़े जैसे- इंटरनेट, नेटवर्किंग, डाटा मैनेजमेंट सिस्टम आदि (Internet, Networking, Data Management System) ये सभी इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी का ही हिस्सा है। आज की लगभग सभी मॉडर्न टेक्नोलॉजी (modern technology) IT पर आधारित है।

कई कंपनियां, चाहे बड़ी हों या छोटी, एक अच्छे आईटी विभाग (IT department) के बिना सफलता (success) प्राप्त नहीं कर सकती, व्यवसाय में दिन प्रतिदिन के कामों में IT का इस्तेमाल होता ही है। ईमेल भेजने से लेकर पासवर्ड बदलने तक, हर चीज़ आईटी की मदद से सम्भव हो रही है। अतः किसी भी व्यवसाय की सफलता का आधार आईटी डिपार्टमेंट है। आईटी के जरिये व्यवसाय अधिक कुशल व उत्पादक बनता है।

व्यवसाय में इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी क्यों है जरुरी (Why business need information technology)

व्यवसाय में इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी क्यों है जरुरी इस सवाल का जबाव खोजना कोई राकेट साइंस नहीं है। जब हम आज अपने दैनिक जीवन की कल्पना बिना आईटी के नहीं कर सकते तो बिज़नेस के बारे में क्या सोचना। टेक्नोलॉजी व्यावसायिक प्रक्रियाओं (Business Process) को और अधिक कुशल बनाती है। आपके व्यवसाय के लिए विशेष रूप से डिज़ाइन किए गए कार्यक्रमों के माध्यम से डेटा दर्ज, ट्रैक और विश्लेषण किया जा सकता है। यह भंडारण और परिवहन की लागत में भी कटौती करता है, क्योंकि अब सब कुछ डिजिटल फाइलों के रूप में संग्रहीत और साझा किया जा सकता है। यहाँ कुछ अन्य लाभ भी दिए गए हैं: 

  • कंपनी की उत्पादक क्षमता (productivity) में वृद्धि करना।
  • समय की बचत करना।
  • व्यावसायिक प्रदर्शन को बेहतर बनाना।
  • डेटा की सुरक्षा और समस्या निवारण करना।
  • व्यापार में पैसे की बचत करना।
  • कस्टमर एक्सपीरियंस (Customer experience), और संचार में सुधार करना।
  • व्यवसाय में संचार प्रणालियों को सुव्यवस्थित करना।
  • प्रबंधकीय निर्णय लेने में सहायता करना।
  • विश्व स्तर पर व्यवसाय के विस्तार में मदद करना।
  • कंपनी के प्रचार में मदद करना।

व्यवसाय में इनफार्मेशन टेक्नॉलजी का महत्त्व

व्यवसाय में सुरक्षा का मतलब है कंपनी के डाटा को गुप्त रखना ताकि कंपनी का डेटा लीक न हो। आईटी विभाग डेटा की सुरक्षा सुनिश्चित करता है, जिसका अर्थ है कि उद्योग-मानक सुरक्षा उपायों के लिए व्यवसाय में आईटी डिपार्टमेंट बहुत महत्वपूर्ण है।  आईटी डिपार्टमेंट को यह सुनिश्चित करना होता है कि कंपनी को टेक्निकल क्षेत्र में कोई नुक्सान न हो साथ ही आईटी डिपार्टमेंट डेटा संरक्षण कानूनों का पालन करते हुए कंपनी के डेटा की सुरक्षा करते हैं।

समस्या निवारण का तात्पर्य डिजिटल दुनिया (Digital world) में समस्या-समाधान से है। समस्या निवारण कई अलग-अलग चीजों पर लागू किया जा सकता है, जैसे कि कंप्यूटर या सिस्टम पर कुछ खराबी या किसी सॉफ्टवेयर (software) या हार्डवेयर (hardware) की खराबी को सही करना। इसके साथ ही समस्या की जड़ पता करना कि आखिर ऐसा क्यों हो रहा है। किसी भी समस्या का समाधान करने के लिए उस समस्या पर गहन शोध की आवश्यकता होती है। आईटी डिपार्टमेंट यही काम करता है, जैसे टेक्निकल समस्याओं (technical problems) को पकड़ना और उनका समाधान करना।

जब कंप्यूटर के साथ कोई समस्या आती है, जैसे किसी कर्मचारी का कंप्यूटर लॉक हो गया, पासवर्ड भूल गया है या किसी विशेष ड्राइव तक पहुंच नहीं पा रहा है, तो आईटी आमतौर पर इन समस्याओं को भी हल  करता है।

व्यवसाय में किसी तृतीय पक्ष द्वारा डेटा और सिस्टम के हेरफेर को रोकने का काम भी आईटी डिपार्टमेंट करता है। इसके अलावा आईटी, व्यापार बिक्री (businesses sales), लेनदेन (transactions), वित्तीय रिकॉर्ड (financial records), उत्पाद कैटलॉग (product catalogues), ग्राहक प्रोफाइल (customer profiles) आदि गतिविधियों के डेटाबेस का निर्माण, और उसके रखरखाव की भी जिम्मेदारी लेता है।

क्लाउड-आधारित समाधान, एप्लिकेशन, स्टोरेज, ऑन-डिमांड सेवाओं, कंप्यूटर नेटवर्क, या अन्य संसाधनों को संदर्भित करता है, जिन्हें किसी अन्य प्रोवाइडर के साझा क्लाउड कंप्यूटिंग ढांचे के माध्यम से इंटरनेट कनेक्शन के साथ एक्सेस किया जाता है। क्लाउड-आधारित समाधान व्यवसायों और उपयोगकर्ताओं दोनों के लिए लाभ प्रदान करते हैं। यह बजट पर स्टार्टअप्स (Startups) के लिए मददगार है क्योंकि यह खर्च को कंपनी के विकास के अनुरूप रखता है। यदि किसी कारण से व्यापार में गिरावट आती है तो उसके अनुसार योजनाओं को डाउनग्रेड भी किया जा सकता है।

  • डेटा का विश्लेषण करना (Analyse data)

सूचना प्रौद्योगिकी विशिष्ट डेटा (specific data) का विश्लेषण करने में सक्षम है और डेटा में प्रस्तुत रुझानों और सूचनाओं का उपयोग करके तदनुसार व्यावसायिक यात्रा की योजना बनाने में मदद करती है। आईटी, कंपनी के ग्रोथ को बढ़ावा देती है। आज के समय में, डिजिटल मार्केटिंग एक ऐसी चीज है जिसके बिना व्यवसाय नहीं रह सकते क्योंकि आज हम ऑनलाइन दुनिया में चले गए हैं और उपयोगकर्ताओं के पास अपने स्मार्टफोन उपकरणों से नेट 24/7 तक पहुंच है। इंटरनेट एक डिजिटल मार्केटिंग प्लेटफॉर्म प्रदान करता है जो व्यवसायों को अपने उत्पादों या सेवाओं को वैश्विक बाजार में बढ़ावा देता है। आईटी डेटा का विश्लेषण करके कंपनी के उत्पाद एवं सेवाओं को लोगों तक पहुँचता है।

व्यापार में त्वरित और प्रभावशाली संचार बहुत आवश्यक है। हम एक ऐसे युग में रहते हैं जहां आप आमतौर पर किसी व्यवसाय से तुरंत संपर्क कर सकते हैं। एक कंपनी की सफलता काफी हद तक उसके ग्राहकों की जरूरतों, व्यवहारों, खरीद प्रवृत्तियों, व्यवहारों और संतुष्टि के पैमानों (customer’s needs, behaviours, buying trends, behaviours and satisfaction scales) को समझने पर निर्भर करती है। कुशल और त्वरित संचार सबसे अच्छा जरिया है ग्राहकों को आकर्षित करने का। सूचना प्रौद्योगिकी की सबसे खास बात यह है कि यह व्यवसायों को वैश्विक स्तर पर वास्तविक समय में संभावित लाखों ग्राहकों के साथ संवाद करने की अनुमति देती है। आईटी के जरिये ग्राहकों के साथ घर बैठकर कई तरीकों से संवाद कर सकते हैं। जैसे ईमेल (Email), सोशल मीडिया चैट (social media chat), वीडियो कॉल (video call), वेबिनार (Webinar), ईमेल न्यूज़लेटर्स या स्मार्टफोन (Smart phone) के माध्यम से भी आप अपने ग्राहकों के साथ कनेक्ट हो सकते हैं।

  • आईटी सेक्टर का महत्व (Importance of IT Sector)

आईटी ने बेहतर पारदर्शिता के साथ स्वास्थ्य देखभाल सेवाओं, शिक्षा सूचना, उपभोक्ता अधिकार और सेवाओं आदि जैसी सरकारी सेवाओं के प्रबंधन और वितरण को सहज बना दिया है। आईटी उद्योग हमारी अर्थव्यवस्था के तेजी से समृद्ध होने और रोजगार के लाखों अवसर पैदा करने के लिए आवश्यक है। इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी ने पारदर्शिता में सुधार करके सरकारी सेवाओं (जैसे उपभोक्ता अधिकार, स्वास्थ्य सेवाएं आदि) के प्रबंधन और वितरण को भी अधिक प्रभावी बना दिया है। किसी भी देश के आर्थिक विकास में आईटी की भूमिका वर्तमान में अभूतपूर्व है। इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी वाणिज्य और व्यापार क्षेत्र के निर्माण और विकास में मदद करती है और अधिकतम संभव उत्पादन उत्पन्न करती है। इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी में प्रगति के साथ विभिन्न क्षेत्रों द्वारा व्यवसाय उत्पन्न करने में लगने वाला समय अब ​​कम हो गया है। यह इलेक्ट्रॉनिक सुरक्षा, भंडारण और कुशल संचार प्रदान करता है।

भारत के IT-BPM (सूचना प्रौद्योगिकी और व्यवसाय प्रक्रिया प्रबंधन) क्षेत्र का देश के सकल घरेलू उत्पाद में 9.3% हिस्सा है, जो इसे भारत के आर्थिक विकास में योगदान करने वाले सबसे बड़े क्षेत्रों में से एक बनाता है। आईटी क्षेत्र वैश्विक आउटसोर्सिंग बाजार के 56% हिस्से पर कब्जा करता है।

बिज़नेस में टेक्नोलॉजी का महत्व (Importance of technology in business)

अपने आसपास देखें। आज हम जिस दुनिया में रहते हैं, वह वह दुनिया नहीं है जिसमें हम पैदा हुए थे। इन पिछले कुछ वर्षों में, तकनीक ने हमारे बातचीत करने के तरीके, हमारे व्यापार करने के तरीके, खरीदारी करने के तरीके और हमारे रहने और काम करने के तरीके को बदल दिया है। यह हमारी दिनचर्या का एक अभिन्न अंग बन गया है और अब यह जीवन का एक अनिवार्य हिस्सा बन गया है।

व्यवसाय में टेक्नोलॉजी के महत्व को कम करके नहीं आंका जा सकता है। दुनिया भर की कंपनियां अपने प्रतिस्पर्धात्मक लाभ को बेहतर बनाने और रणनीति और विकास को चलाने में मदद करने के लिए उभरती प्रौद्योगिकियों पर भरोसा कर रही हैं। आज हम इंटरनेट, वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग, प्रोजेक्ट मैनेजमेंट ऐप और अन्य के बिना बिजनेस करने के बारे में सोच भी नहीं सकते हैं। वास्तव में, व्यवसाय में प्रौद्योगिकी की भूमिका का केवल विस्तार होता रहेगा। यदि आप पहले से ऐसा नहीं कर रहे हैं तो यह तथ्य आपकी प्रक्रियाओं में प्रौद्योगिकी को शामिल करने की आवश्यकता है। तो, यह तकनीक से परिचित होने का समय है और यहां बताया गया है कि कैसे अधिक तकनीकी जानकार बनें।

यहाँ कुछ कारण दिए गए हैं कि टेक्नोलॉजी व्यवसायों के लिए महत्वपूर्ण क्यों है:

1. संचार (Communication)

टेक्नोलॉजी संचार के तेज, व्यापक और अधिक कुशल साधनों को सक्षम बनाती है। स्काइप और जूम जैसी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग प्रौद्योगिकियां भौगोलिक सीमाओं के पार मीटिंग को सुविधाजनक बनाती हैं। आपके संगठन के भीतर, स्लैक या आसन जैसे ऐप आपकी टीम के भीतर संचार को आसान बनाने में आपकी सहायता कर सकते हैं। आप इसका उपयोग परियोजनाओं, कार्यों के विवरण, समय सीमा आदि को ट्रैक करने के लिए कर सकते हैं, भले ही वे एक ही छत के नीचे या दूर से काम करते हों। ईमेल, न्यूज़लेटर्स, सोशल मीडिया और अन्य प्लेटफॉर्म संचार के लिए समान रूप से आवश्यक संसाधन हैं।

2. सुरक्षा (Security)

साइबर अपराध और डेटा उल्लंघनों में वृद्धि के साथ, सभी व्यवसायों के लिए कड़ी सुरक्षा अनिवार्य है। आज, सभी व्यावसायिक संपत्तियां ज्यादातर क्लाउड या एंडपॉइंट्स पर संग्रहीत होती हैं। इसने कंपनियों के लिए अपने डेटा के साथ-साथ अपने ग्राहकों के डेटा को सुरक्षित रखने के लिए सख्त उपाय अपनाना आवश्यक बना दिया है।

3. दक्षता (Efficiency)

टेक्नोलॉजी प्रणालियों, उत्पादों और सेवाओं की दक्षता बढ़ाने में मदद करती है। यह प्रक्रियाओं को ट्रैक और व्यवस्थित करने में मदद करता है, डेटा प्रवाह बनाए रखता है और संपर्क और कर्मचारी रिकॉर्ड प्रबंधित करता है। वास्तव में, संचालन में यह बढ़ी हुई दक्षता लागत कम करने में मदद करती है और साथ ही व्यवसाय को तेजी से बढ़ने में सक्षम बनाती है।

4. कर्मचारी सहायता (Employee Assistance) 

अधिकांश कर्मचारी इस विश्वास के साथ अपने कार्यों को करने में नवीनतम तकनीकों का उपयोग करने की आवश्यकता महसूस करते हैं कि इससे उन्हें सर्वोत्तम परिणाम देने में मदद मिलेगी। कंपनियों को लागत-उत्पादन संबंध पर विचार करने और परिणाम बढ़ाने के लिए उपयुक्त तकनीक प्रदान करने की आवश्यकता है।

5. समय और पैसा (Time and Money)

इसमें कोई संदेह नहीं है कि टेक्नोलॉजी व्यवसायों को कम समय में अधिक हासिल करने में मदद करती है। साथ ही यह उत्पाद या सेवा की गुणवत्ता को कोई नुकसान नहीं पहुंचाता है। वास्तव में, टेक्नोलॉजी अब वो काम कर रही है जो पहले लोगों द्वारा किए जाते थे। यह कर्मचारी लागतों को बचाने में मदद करता है, या उन्हें उन क्षेत्रों में काम करने में मदद करता है जहाँ उनकी वास्तव में आवश्यकता होती है।

बिजनेस के साथ-साथ इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी (IT) के फायदे (Advantages of Information Technology)

Information Technology यानी IT मुख्य रूप से computer technology से सम्बंधित है, और आज के समय में कंप्यूटर बेहद उपयोगी उपकरण हैं। Information technology के बहुत से लाभ हैं जो इस प्रकार से हैं -

  • IT की वजह से संचार क्षैत्र काफी विकसित हुआ है, जिससे हमें Messages, Voice Call, Video call जैसी अनेक सुविधाएं मिली हैं। इन सबके माध्यम से हम किसी भी व्यक्ति से बातचीत कर सकते हैं। Information technology ने हमारे जीवन में एक नयी क्रान्ति ला दी है। 
  • IT के कारण आज हम सभी प्रकार की सूचनाओं को सही ढंग से व्यवस्थित और तेज गति से संसोधित कर सकते हैं जैसे world processor, spreadsheet, database program आदि के द्वारा।
  • शिक्षा में वर्चुअल Virtual क्लास आधुनिक शिक्षा का जरिया बन रहे हैं जो रचनात्मक तरीको से छात्रों को शिक्षा दे रहे हैं। Education Technology के द्वारा शिक्षण संबंधित सभी गतिविधियों को प्रोत्साहित किया जा रहा है। आज छात्र इंटरनेट Internet के द्वारा अपनी पढ़ाई के जरूरी Notes, PDF या वीडियो डाऊनलोड कर सकते हैं। टेक्नोलॉजी की मदद से छात्र स्वयं ही बिना किसी दूसरे की मदद से किसी विषय को पढ़ सकते हैं या सीख सकते हैं।
  • टेक्नोलॉजी ने किसी भी देश की अर्थव्यवस्था को बढ़ाने और बेहतर करने में बहुत योगदान दिया है। आज टेक्नोलॉजी के कारण बहुत से उद्योग, कंपनियां चल रही है, जो बहुत से लोगों को नौकरी के अवसर प्रदान कर रही हैं, उनके लिए आय का श्रोत बन रही हैं। 
  • Information technology की मदद से हम देश-विदेश की जानकरी को बहुत आसानी से प्राप्त कर सकते हैं तथा यह हमें देश-विदेश के विभिन्न प्रकार की भाषाओं को समझने में मदद प्रदान करती है। इस तरह से देश-विदेश की भाषाओं के बीच सूचना, ज्ञान और संबंधों को साझा करना बहुत आसान हो गया है।
  • Information technology से बिजनेस के क्षेत्र में काफी प्रगति हुई है और इंडस्ट्री सेक्टर industry sector पहले से काफी एडवांस हो गया है। इसके माध्यम से सभी लोग अपने कस्टमर तक बहुत ही आसानी से पहुंच जाते हैं और इसी के कारण बिजनेस को online चला सकते हैं। IT के कारण उद्यमी अपने प्रोडक्ट्स की सेल्लिंग आसानी से कर सकते हैं। 
  • आजकल AI टेक्नोलॉजी पर आधारित बहुत से उपकरण और कंप्यूटर सॉफ्टवेयर मौजूद हैं, जो बहुत ही बुद्धिमत्ता से किसी कार्य को करते हैं। AI का उपयोग बहुत से उद्योगों और बिजनेस में किया जा रहा है, तकनीकी विशेषज्ञों के अनुसार आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस टेक्नोलॉजी Artificial Intelligence Technology भविष्य में बहुत ज्यादा विकसित और प्रचलित होने वाली है। 
  • कृषि प्रौद्योगिकी Agricultural Technology में विकास हुआ है। कृषि में आयी नई टेक्नोलॉजी के उपयोग से किसान कम समय में बहुत काम करके फायदा ले रहे हैं। इस टेक्नोलॉजी की मदद से कृषि में उत्पादन बढ़ाने में बड़ा योगदान है।
  • इस तकनीक का इस्तेमाल करके ग्राहकों को कॉल, ईमेल या ऑनलाइन सपोर्ट से किसी समस्या का समाधान तुरंत मुहैया करवा रही है।
  • सूचना प्रौद्योगिकी की मदद से सभी प्रकार के व्यवसायों को फायदा हुआ है। उदहारण के लिए आज पूरी दुनिया में Amazon, Flipkart, Alibaba और Myntra जैसी कंपनी अपना कारोबार कर रही है। बिजनेस के अंदर कंप्यूटर का बहुत प्रभाव पड़ा है और सूचना प्रौद्योगिकी के आने से कंपनियों को बहुत ही फायदा भी हुआ है।
  • Information Technology (IT) में करियर कई ऑप्शन हैं और इसमें आप अच्छा करियर बना सकते हैं। जैसे computer operator, computer programmer, hardware developer, software developer और web designer आदि।
  • Information technology की वजह से हम Information को कम लागत में स्टोर कर सकते हैं और साथ ही सुरक्षा भी दे सकते है। यानि information technology किसी इनफार्मेशन को full सिक्योरिटी में रखती है। किसी भी बिजनेस मे टेक्नोलॉजी का उपयोग करने से बहुत सारा समय और पैसा बच जाता है। 
  • अन्तरिक्ष प्रौद्योगिकी या स्पेस टेक्नोलॉजी space technology में जितना भी विकास हो पाया है वो सारा सूचना प्रौद्योगिकी की ही देन है। इसमें अंतरिक्ष से संबंधित बहुत सी Technology तकनीकें शामिल होती हैं, जैसे स्पेस प्रोजेक्ट Space Project, अंतरिक्ष रिसर्च Space research, स्पेस ट्रेवल, अंतरिक्ष यान आदि।
  • कंप्यूटर और इंटरनेट के द्वारा हर प्रकार की जानकारी आसानी से उपलब्ध हो जाती है। कंप्यूटर का उपयोग छात्रों द्वारा नोट्स को संग्रह करने के लिए और प्रोजेक्ट Project बनाने के लिए किया जा रहा है। शिक्षा में टेक्नोलॉजी के इस्तेमाल से छात्र भविष्य के लिए टेक्नोलॉजी में बेहतर बन रहे हैं। इसी क्रांति के कारण ज्यादा से ज्यादा लोग कंप्यूटर टेक्नोलॉजी से परिचित हो रहे है।

इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी के उपयोग (Use of Information Technology) 

आज Information technology का क्षेत्र बहुत ही व्यापक बन चुका है। आज कोई भी फील्ड ऐसा नहीं है जिसमें information technology का उपयोग नहीं होता हो। चाहे वो education हो, entertainment हो, telecommunication या फिर business हो। 

Business के क्षेत्र में -

सबसे पहले हम Bussiness के Field में InInformation technology का उपयोग जानते हैं। इसके द्वारा आप अपने bussiness का online एडवरटाइजिंग कर सकते हैं तथा online ही अपने व्यवसाय को आगे बढ़ा सकते हैं और इसके साथ ही आप अपने कस्टमर्स से जुड़े रह सकते हैं। इसके अलावा आप अपने प्रोडक्ट को कस्टमर तक आसानी से पंहुचा सकते हैं।

Education के क्षेत्र में -

Education सिस्टम में भी आज काफी बदलाव आ चुके हैं। Information technology के आने से education system पहले से काफी बदल गया है। आजकल छात्र online घर बैठे ही study कर रहे हैं। इसके अलावा software application से भी लोग study कर रहे हैं। 

Telecommunication के क्षेत्र में -

Information technology का Telecommunication के क्षेत्र में काफी प्रसार हुआ है। Information technology के आने से नये-नये संचार के लिये नये-नये साधनों का अविष्कार किया गया है। इसके द्वारा हम कुछ ही क्षणों में किसी सूचना को एक जगह से दूसरी जगह पहुँचा सकते हैं। इसके उदाहरण जैसे- telephone, टीवी, सोशल मीडिया, transmission आदि। कई ऐसे क्षेत्र हैं जहां पर information technology का use किया जा रहा है।

Entertainment के क्षेत्र में -

आज हमारे बीच Entertainment के बहुत सारे साधन हैं। जैसे टेलीविज़न, mobile phone आदि। हम कोई भी movie ऑनलाइन देख सकते हैं। अपनी पसंद का music सुन सकते हैं। 

इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी के विभिन्न घटक Components of Information technology

IT एक कंप्यूटर प्रौद्योगिकी से संबंधित टेक्नोलॉजी है, और डिजिटल नेटवर्क, कंप्यूटर नेटवर्क, वेब डिजाइन, दूरसंचार, इंटरनेट, हार्डवेयर, वेबसाइट, ईमेल और ई-कॉमर्स वेबसाइट इत्यादि सभी IT के अंतर्गत आते हैं। आज हर जगह पर टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल किया जा रहा हैं और टेक्नोलॉजी के कारण हमारी जिंदगी काफी आसान हो गयी है। इस टेक्नोलॉजी के निर्माण में IT का बहुत महत्वपूर्ण योगदान है, जो डेटा और इनफोर्मेशन को इकट्ठा करने और व्यवस्थित करने में महत्वपूर्ण योगदान देता है। Information Technology के 5 प्रमुख घटक हैं-

1- कंप्यूटर हार्डवेयर टेक्नोलॉजी

कंप्यूटर हार्डवेयर को हम देख व छू सकते हैं जैसे- CPU, कीबोर्ड, माउस, मदरबोर्ड, माइक्रो कंप्यूटर, Mainframe और स्टोरेज डिवाइस आदि इसके अंतर्गत आते हैं।

2- कंप्यूटर सॉफ्टवेयर टेक्नोलॉजी

सॉफ्टवेयर कंप्यूटर प्रोग्राम्स होते हैं जिनमें Commands या Instructions होते हैं और आपको बता दें कि इन्ही की मदद से हार्डवेयर को काम करने के लिए सूचना दी जाती है। सॉफ्टवेयर को दो भागों में बांटा गया है, पहला Operating System और दूसरा Application Software है। 

3- डेटाबेस टेक्नोलॉजी

डेटाबेस यानि जिसमें डेटा को एकत्रित करके रखा जाता है, जैसे डॉक्यूमेंट, फाइल, वर्कशीट, विडियो, ऑडियो, फोटो, टेक्स्ट आदि डेटाबेस टेक्नोलॉजी के अंतर्गत आते हैं।

4- नेटवर्क टेक्नोलॉजी

नेटवर्क टेक्नोलॉजी मतलब जिसमें सभी इलेक्ट्रोनिक डिवाइस को एक साथ नेटवर्क में जोड़ा जाता है जैसे- Ethernet Cable या fibre optics, Wireless Wifi, Bluetooth आदि। नेटवर्क टेक्नोलॉजी अनेक तरह की होती है, जैसे LAN, WAN आदि।

5- ह्यूमन रिसोर्स

ह्यूमन रिसोर्स, इनफोर्मेशन टेक्नोलॉजी का सबसे महत्वपूर्ण घटक है, क्योंकि यह सिस्मट को चलाते हैं।

Information technology का क्षेत्र बहुत बड़ा होता है। आज के समय में हम एक जगह बैठे ही दुनिया भर के किसी भी कोने की सूचना को प्राप्त कर सकते हैं और उसको देख सकते हैं। यहाँ तक कि आज हम अपने घर में बैठ कर ही देश-विदेश की खबरों की जानकारी रख सकते हैं। आज के समय में हर कार्य को करने में टेक्नोलॉजी का यूज़ किया जा रहा है। हम कह सकते हैं कि आज के समय में इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी का महत्व बहुत अधिक है। 

बिज़नेस में आईटी के कार्य (Functions of Information Technology in Business)

व्यावहारिक रूप से हर व्यवसाय जीवित रहने के लिए इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी (आईटी) सेवाओं पर निर्भर करता है, लेकिन बहुत कम लोग वास्तव में इस क्षेत्र की पेचीदगियों को समझते हैं। आमतौर पर 6 महत्वपूर्ण व्यावसायिक कार्य होते हैं जिनके लिए आईटी बिल्कुल मौलिक है।

1. समर्थन (Support) 

इस भूमिका से सभी क्षेत्रों के पेशेवरों को कोई आश्चर्य नहीं होना चाहिए, जिनमें से कई नियमित रूप से समर्थन के लिए अपने आईटी कर्मचारियों की ओर मुड़ते हैं। सपोर्ट सेवाओं की एक विशाल श्रृंखला के लिए एक शब्द है। आपके विशेषज्ञ आवश्यकतानुसार उन्नयन और नियमित रखरखाव करेंगे, साथ ही कंप्यूटर से लेकर फोन लाइन तक, अपनी तकनीक और तकनीकी प्रणालियों के साथ होने वाली किसी भी समस्या वाले व्यक्तियों की सहायता करेंगे।

इसमें टूटे हुए या खराब सॉफ़्टवेयर को ठीक करना, उपयोगकर्ताओं को शिक्षित करना कि कैसे ठीक से अपने सिस्टम और उपकरणों का उपयोग और उपयोग करना है, व्यवसाय- या विभाग-व्यापी ओवरहाल लागू करना, और बहुत कुछ शामिल हो सकता है।

बड़े संगठनों में, IT के पास अक्सर अपना हेल्प डेस्क होता है जो व्यक्तिगत उपयोगकर्ताओं के प्रश्नों और शिकायतों को संबोधित करता है और आवश्यकतानुसार कर्मियों को तैनात करता है। एक हेल्प डेस्क भी आईटी विभाग को उभरने वाले विभिन्न मुद्दों को प्राथमिकता देने और महत्व के क्रम में उन्हें संबोधित करने की अनुमति देता है।

इस भूमिका में, आईटी वास्तव में समर्थन का एक साधन है जिसमें वे न केवल अपने ग्राहकों की सहायता करते हैं बल्कि पर्दे के पीछे की भूमिका भी निभाते हैं। स्वाभाविक रूप से, यह उन्हें कम महत्वपूर्ण नहीं बनाता है। वे एक संगठन के संचालन के लिए वास्तव में महत्वपूर्ण हैं। 

2. डेटा प्रबंधन और शासन (Data Management and Governance)

आज के व्यवसाय भारी मात्रा में डेटा उत्पन्न करते हैं। यह जानकारी संगठनों के लिए उनकी रणनीतियों और उद्देश्यों को सुधारने और आगे बढ़ाने में अविश्वसनीय रूप से उपयोगी हो सकती है, लेकिन इसे सुपाच्य, व्यापक प्रारूप में होना चाहिए। आईटी के लिए एक तेजी से बढ़ती भूमिका डेटा प्रबंधन और शासन की है।

आईटी टीमें डेटाबेस और अन्य रिपॉजिटरी के माध्यम से डेटा स्टोर करने की योजना तैयार करती हैं। वे इन रिपॉजिटरी के लिए अर्थपूर्ण अंतर्दृष्टि की पेशकश करते हुए डेटा पर विश्लेषण और विश्लेषण करने के लिए साधन भी बनाते हैं - जो आम लोगों के लिए समझने योग्य और कार्रवाई योग्य हैं। इसके अलावा, आईटी कर्मचारियों को आवश्यक डेटा तक पहुंचने में मदद करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

एक और तरीका है कि आईटी डेटा प्रबंधन में एक अभिन्न भूमिका निभाता है, डेटा को गलत हाथों में पड़ने से बचाना है, जो किसी भी संगठन के लिए विनाशकारी हो सकता है।

3. बुनियादी ढांचा (Infrastructure) 

इन सबसे ऊपर, शायद, आईटी कंपनी के बुनियादी ढांचे के निर्माण और रखरखाव के बारे में है। व्यवसाय के प्रबंधन और महत्वपूर्ण विभागों के साथ, आईटी यह सुनिश्चित करने में एक मौलिक भूमिका निभाता है कि संगठन सफलतापूर्वक संचालित होता है।

आईटी एक व्यवसाय की तकनीकी नींव स्थापित करता है, इसकी संरचना का चयन और कार्यान्वयन करता है। विभिन्न घटकों में हार्डवेयर शामिल हैं - कंप्यूटर, टेलीफोन सिस्टम, नेटवर्क डिवाइस, प्रिंटर, स्कैनर, और सर्किट, कुछ नाम - और सॉफ़्टवेयर उन महत्वपूर्ण कार्यक्रमों को शामिल करता है जिनका लोग नियमित रूप से उपयोग करते हैं, जैसे कि Microsoft Office और Adobe Creative Cloud।

आईटी विभाग एक कंपनी की जरूरतों का भी आकलन करता है और संगठन को सुचारू रूप से चलाने के लिए प्रबंधन के लिए विभिन्न कार्यक्रमों और उपकरणों की खरीद के लिए आवश्यकतानुसार सिफारिशें करता है। कभी-कभी, वे व्यवसाय को और अधिक सफल और कुशल बनाने के लिए अपग्रेड का सुझाव दे सकते हैं।

बजट बनाना भी प्रक्रिया का एक अभिन्न अंग है। एक आईटी प्रबंधक या निदेशक एक बजट योजना तैयार करने के लिए कंपनी के प्रबंधन के साथ काम करेगा जो लागत प्रभावी तरीके से महत्वपूर्ण जरूरतों को पूरा करता है।

4. संचार (Communication) 

जैसा कि आप जानते हैं, संचार हर व्यवसाय के लिए महत्वपूर्ण है, चाहे वह किसी भी प्रकार का हो। हमारी डिजिटल दुनिया में, यह अधिकांश संचार अब वस्तुतः होता है, चाहे आपका व्यवसाय दूर से संचालित हो रहा हो या किसी कार्यालय में।

संचार के लिए सिस्टम स्थापित करने में आपकी आईटी टीम महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। वे आउटलुक जैसे ईमेल क्लाइंट स्थापित करेंगे, जूम जैसे वीडियो-कॉन्फ्रेंसिंग के लिए प्लेटफॉर्म की सिफारिश करेंगे, और प्रोजेक्ट-मैनेजमेंट टूल और स्लैक जैसे चैट प्लेटफॉर्म जैसे सहयोग के तरीके स्थापित करेंगे।

लेकिन यह सिर्फ मौजूदा सॉफ्टवेयर को लागू करने के बारे में नहीं है। आईटी टीमें भी नवाचार करती हैं, ऐसे तरीके खोजती हैं जिससे व्यवसाय अपनी संचार प्रणालियों में सुधार कर सकें। इसमें सहयोगियों को अधिक कुशलतापूर्वक और एक दूसरे के साथ प्रभावी ढंग से संवाद करने में मदद करने के लिए आंतरिक उपयोग के लिए नए प्लेटफ़ॉर्म तैयार करना शामिल हो सकता है। 

5. सुरक्षा (Security) 

साइबर सुरक्षा आपके संगठन के लिए महत्वपूर्ण है। आईटी विशेषज्ञ सभी सॉफ्टवेयर और हार्डवेयर सहित आपकी हर एक तकनीकी प्रणाली के भीतर कमजोरियों की पहचान करने के लिए काम करेंगे, जिनमें से कोई भी मैलवेयर से संक्रमित हो सकता है या हैकर्स और साइबर अपराधियों द्वारा उचित सुरक्षा के बिना प्रवेश किया जा सकता है।

साइबर सुरक्षा सभी प्रकार और आकारों के संगठनों के लिए एक आवश्यक अवधारणा है, क्योंकि इसके बिना, संगठनों को न केवल खुद पर हमले का बल्कि उनकी प्रतिष्ठा के नष्ट होने का भी खतरा है। कुछ आईटी पेशेवर साइबर सुरक्षा या साइबर सुरक्षा के विशेष उपसमुच्चय जैसे नेटवर्क सुरक्षा के विशेषज्ञ भी हैं। आपका आईटी टीम प्रमुख आपके संगठन को नुकसान से बचाने के लिए किसी विशेषज्ञ को काम पर रखने का सुझाव दे सकता है।

6. पूरक कार्यक्रम और सेवाएं (Supplementary Programs and Services)

इन 5 महत्वपूर्ण कार्यों के अलावा, आईटी अतिरिक्त कार्यक्रमों और सेवाओं को लागू करने के लिए भी जिम्मेदार है जो आपके विशेष संगठन के लिए अद्वितीय या आवश्यक हो सकते हैं। उदाहरण के लिए, वे आपके मार्केटिंग विभाग के उपयोग के लिए विशिष्ट सॉफ़्टवेयर स्थापित करने का सुझाव दे सकते हैं, या बजट सॉफ़्टवेयर को लागू करने की सलाह दे सकते हैं जो आपकी लेखा और बहीखाता टीमों की सहायता करेगा।

वे नए प्लेटफ़ॉर्म और एप्लिकेशन बनाने का प्रस्ताव भी दे सकते हैं जो आपके संगठन को स्क्रैच, सुव्यवस्थित और मौलिक रूप से बेहतर संचालन से बेहतर बनाएंगे।

TWN In-Focus