Cyber ​​Security Engineer कैसे बने ? एक बेहतर करियर विकल्प

189
15 Nov 2022
8 min read

Post Highlight

ये तो हम सब जानते हैं कि आज के इस तकनीक के दौर में इंटरनेट की डिमांड कितनी अधिक है। यानि इंटरनेट की डिमांड इतनी ज्यादा है कि इसके बिना आज हम जीने की कल्पना भी नहीं कर सकते हैं। यही वजह है कि हमारे डेटा को सिक्योर रखना सबसे बड़ा इशू बन चुका है। मतलब साइबर क्राइम अत्यधिक तेजी से बढ़ रहा है और इसलिए Cyber Security Engineer की मांग भी तेजी से बढ़ रही है। इंटरनेट अपराध बहुत ज्यादा बढ़ रहे हैं और साइबर सिक्योरिटी इंजिनियर्स की इतनी हाई डिमांड होने का मुख्य कारण ही साइबर क्राइम का तेजी से बढ़ना है। इसलिए इस क्षेत्र में आप Security Engineer सिक्योरिटी इंजीनियर बनकर और सिक्योरिटी से जुड़े इश्यूज को दूर करके इस क्षेत्र में अपना नाम बना सकते हैं और हाई सैलरी पैकेज प्राप्त कर सकते हैं। तो इसके लिए आपको सिक्योरिटी इंजीनियर बनने से जुड़ी सारी जरुरी जानकारी प्राप्त करनी होगी। इसलिए हम आपको इस आर्टिकल में सिक्योरिटी इंजीनियर से जुड़ी पूरी जानकारी दे रहे हैं। बस बने रहिये Think With Niche के साथ। 

Podcast

Continue Reading..

आज इस बात से हर कोई सहमत है कि इंटरनेट Internet ने हमारे जीवन को आसान बना दिया है। इस बात से इंकार नहीं किया जा सकता है कि इंटरनेट हम सबके जीवन का एक हिस्सा बन चुका है इसलिए इसके अत्यधिक उपयोग के कारण ये हमारे जीवन के लिए खतरा भी बन गया है। हमारे डेटा को सिक्योर रखना सबसे बड़ी चुनौती बन गयी है। मतलब साइबर क्राइम cyber crime काफी तेजी से बढ़ गया है। जो लोगों की पहचान को, जरुरी डाटा को और इन्फॉर्मेशन को चुरा लेते हैं। इसलिए Cyber Security Engineer की डिमांड भी तेजी से बढ़ गयी है। मतलब साफ़ है कि साइबर सिक्योरिटी की ये जॉब जितनी चैलेंजिंग है, उतनी ही ज्यादा हाई डिमांड में भी है। साइबर अपराध के कारण लोगों का काफी अधिक नुकसान हो जाता है। जैसे बड़ी-बड़ी कंपनियों का जरुरी डाटा चोरी हो जाता है। इसलिए उद्योगों में सूचना सुरक्षा का महत्व जैसे जैसे बढ़ता जा रहा है, वैसे-वैसे सुरक्षा इंजीनियरों की जरुरत भी बढ़ती जा रही है। दरअसल सुरक्षा इंजीनियर कंप्यूटर सिस्टम और नेटवर्क की सुरक्षा के साथ साथ और घटनाओं को ट्रैक करने के लिए उपयोग किए जाने वाले सिस्टम का निर्माण करते हैं। तो चलिए आज इस आर्टिकल में सिक्योरिटी इंजीनियर कौन होता है? who is a security engineer और कैसे बनें सिक्योरिटी इंजीनियर के बारे में विस्तार से जानते हैं। 

सिक्योरिटी इंजीनियर कौन होता है? Who Is A Security Engineer?

सिक्योरिटी इंजीनियर कंपनी की सुरक्षा प्रणालियों को सिक्योर रखने के लिए जिम्मेदार Responsible for keeping company security systems secure होता है। यानि साइबर सिक्योरिटी इंजीनियर ‘सिक्योर नेटवर्क सलूशन को डिजाइन करता है और इम्प्लीमेंट’ करता है। Cyber Security Engineer सिस्टम की टेस्टिंग और मॉनिटरिंग भी करते हैं। जिससे हैकर्स और साइबर अटैक्स से नेटवर्क को सुरक्षित रखा जा सके। सिक्योरिटी इंजीनियरों को साइबर सिक्योरिटी इंजीनियर, इंफॉर्मेशन सिस्टम्स सिक्योरिटी इंजीनियर, इंफॉर्मेशन सिक्योरिटी इंजीनियर या नेटवर्क सिक्योरिटी इंजीनियर Cyber ​​Security Engineer, Information Systems Security Engineer, Information Security Engineer or Network Security Engineer भी कहते हैं। सिक्योरिटी इंजीनियर, नई सुरक्षा सुविधाओं को लागू करने के साथ साथ और उनका परीक्षण करके समस्याओं को दूर करते हैं। साथ ही कंप्यूटर और नेटवर्क अपग्रेड की योजना बनाते हैं। सिक्योरिटी इंजीनियर ये भी ध्यान रखते हैं कि सभी सिस्टम अच्छे से काम कर रहे हैं या नहीं यानि सिस्टम सिक्योर है या नहीं।

सिक्योरिटी इंजीनियर बनने के लिए योग्यताएँ Qualifications To Become A Security Engineer

सिक्योरिटी इंजीनियरिंग कोर्सेज के लिए योग्यता नीचे दी गयी है -

  • कैंडिडेट को किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड / विश्वविद्यालय से गणित, भौतिकी और रसायन विज्ञान के साथ 10 + 2 या समकक्ष पूरा करना होगा।

  • उम्मीदवारों को अपनी 12 वीं की परीक्षा या समकक्ष में न्यूनतम कुल 50% अंक प्राप्त होने चाहिए।

  • जिन्होंने साइबर सुरक्षा में बीई या किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से साइबर सुरक्षा में बी.टेक या किसी अन्य समकक्ष डिग्री पूरी की है, वे मास्टर्स के लिए आवेदन कर सकते हैं।

  • मास्टर्स के लिए आपको अपने बैचलर डिग्री कोर्स में न्यूनतम 50% कुल अंक प्राप्त करने होंगे। 

  • विदेश की अधिकतर यूनिवर्सिटीज में बैचलर्स के लिए SAT और मास्टर्स कोर्सेज के लिए GRE स्कोर की मांग होती है। 

  • विदेश के विश्वविद्यालयों में प्रवेश के लिए आपको IELTS, TOEFL, PTE, GMAT, GRE आदि परीक्षा के लिए तैयारी करनी है, यह विदेश में अध्ययन करने का एक महत्वपूर्ण कारक है। 

इंडिया में आवेदन करने की प्रक्रिया How to Apply In India

इंडिया में आवेदन करने की प्रक्रिया निम्न है -

  • सबसे पहले आपको यूनिवर्सिटी की ऑफिशियल वेबसाइट में जाकर रजिस्ट्रेशन करना होगा। 

  • यूनिवर्सिटी की वेबसाइट में रजिस्ट्रेशन के बाद आपको एक यूजर नेम और पासवर्ड मिलेगा। 

  • इसके बाद वेबसाइट में साइन इन के बाद अपने कोर्स को चुनें।

  • अब पूरी डिटेल भरकर आवेदन फॉर्म भरकर आवेदन फॉर्म जमा करें। 

  • यदि एडमिशन, प्रवेश परीक्षा पर आधारित है तो प्रवेश परीक्षा के लिए रजिस्ट्रेशन करने के बाद और रिजल्ट के बाद काउंसलिंग होगी। प्रवेश परीक्षा के अंको के आधार पर आपका सेलेक्शन होगा। 

सिक्योरिटी इंजीनियरिंग कोर्सेज के लिए कुछ प्रवेश परीक्षाएं

यूनिवर्सिटीज़ के द्वारा सिक्योरिटी इंजीनियरिंग कोर्सेज के लिए कुछ प्रवेश परीक्षा का आयोजन करती हैं जो निम्न हैं -

JEE MAIN 

GATE

VSAT

AMIE

BITSAT

GRE

JEE ADVANCED

MHT CET

SAT/ACT

सिक्योरिटी इंजीनियर बनने के लिए भारत की कुछ टॉप यूनिवर्सिटीज़ - Some of the top universities in India to become a security engineer -

गलगोटियास यूनिवर्सिटी, ग्रेटर नोएडा Galgotias University, Greater Noida

एमिटी यूनिवर्सिटी, लखनऊ Amity University, Lucknow

GLS यूनिवर्सिटी एलिस ब्रिज, अहमदाबाद

अमृता विश्व विद्यापीठम चेन्नई कैंपस, चेन्नई Amrita Vishwa Vidyapeetham Chennai Campus, Chennai

जयपुर नेशनल यूनिवर्सिटी Jaipur National University

आंध्र विश्वविद्यालय, विशाखापत्तनम Andhra University, Visakhapatnam

एमिटी यूनिवर्सिटी, मुंबई Amity University, Mumbai

प्रेसीडेंसी कॉलेज, हेब्बल, बैंगलोर

NIT Kurukshetra – National Institute of Technology, Kurukshetra

गार्डन सिटी यूनिवर्सिटी ओल्ड मद्रास रोड, बैंगलोर Garden City University Old Madras Road, Bangalore

NIT University, Neemrana

School of Engineering & Technology Sushant University, Gurgaon स्कूल ऑफ़ इंजीनियरिंग & टेक्नोलॉजी सुशांत यूनिवर्सिटी, गुड़गांव

Jaipur National University – JNU Jaipur

इंस्टिट्यूट ऑफ़ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी, GLA यूनिवर्सिटी, मथुरा

GITAM School of Technology, Bangalore

साइबर सिक्योरिटी कोर्स कराने वाले विदेश की कुछ यूनिवर्सिटीज़

नीचे कुछ विदेश की टॉप यूनिवर्सिटीज़ दी गई हैं-

यूनिवर्सिटी ऑफ टेक्नोलॉजी सिडनी University of technology Sydney

मोनाश यूनिवर्सिटी मलेशिया Monash university malaysia

मेलबोर्न इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (MIT) Melbourne Institute of Technology

चार्ल्स स्टर्ट यूनिवर्सिटी Charles Sturt University

द यूनिवर्सिटी ऑफ वाइकाटो The University of Waikato

यूनिवर्सिटी ऑफ बर्मिंघम University of Birmingham

डीकिन यूनिवर्सिटी

द यूनिवर्सिटी ऑफ न्यू साउथ वेल्स The University of New South Wales

UG और PG कोर्सेज

BTech/ MTech in Computer Science Engineering with Cyber Security & Quick Heal

BTech/ MTech in Computer Science Engineering with Certified Cyber Security Investigator

BCA Hons. In Cyber Security

BTech/ MTech in Computer Science Engineering with Cyber Security

BSc in Cyber Security

BTech/ MTech in Computer Science Engineering with Cyber Security & Forensics

BTech/ MTech in Computer Science Engineering with Networking & Cyber Security

BCA with Microsoft Cloud Computing and Cyber Security

BSc in Information Technology Management and Cyber Security

साइबर सिक्योरिटी इंजीनियर बनने के लिए स्किल्स Skills to become a Cyber ​​Security Engineer

साइबर सिक्योरिटी इंजीनियर बनने के लिए निम्न स्किल्स का होना जरुरी है-

  • C++, Java, Node, Ruby और Python आदि में प्रवीणता

  • आपके पास कोडिंग स्किल्स होनी जरुरी

  • प्रॉब्लम सॉल्विंग स्किल्स होनी चाहिए

  • प्रोजेक्ट मैनेजमेंट स्किल

  • नेटवर्किंग और नेटवर्क सुरक्षा में प्रोफिसिएंसी होना जरुरी

  •  क्लाउड सिक्योरिटी की जानकारी होनी जरुरी।

  • आपको Latest Cyber Security Trends और Hacker Techniques की Up to Date Knowledge होनी चाहिए। यानि सुरक्षा प्रवृत्तियों और हैकर रणनीति का अप-टू-डेट ज्ञान होना जरुरी 

  • शीघ्र समस्या सुलझाने की क्षमता

  • वर्कप्लेस स्किल्स

साइबर सिक्योरिटी इंजीनियर की जिम्मेदारियां Responsibilities of Cyber ​​Security Engineer

  • अपनी आर्गेनाइजेशन के सिक्योरिटी की जरूरतों का पता लगाना और उसके अनुसार काम करना। मतलब सुरक्षा उपायों की पहचान करना। 

  • सेफ्टी एसेसमेंट और कोड ऑडिट करना

  • नेटवर्क और सिस्टम की कमजोरियों को आइडेंटिफाई करने के लिए टेस्टिंग और स्कैन्स कंडक्ट करना।

  • आर्गेनाइजेशन के ‘सिस्टम, डेटा और नेटवर्क को सुरक्षित रखने’ के लिए सभी सिक्योरिटी मेजर्स को डिज़ाइन, इम्प्लीमेंट और अपग्रेड करना।

  • सुरक्षा कमजोरियों के लिए तकनीकी समाधान विकसित करना

  • आर्गेनाइजेशन के डेटा, सिस्टम और नेटवर्क्स को सिक्योर रखने के लिए काम करना 

  • एक Cyber Security Engineer अन्य कई तरह के रोल्स भी निभाता है, जैसे – Data Security Engineer, Network Security Engineer और Web Security Engineer के रोल्स। 

  • सुरक्षा सुधारों को सेल्फ ड्राइव करना

Cyber Security Engineer की सैलरी

भारत में एक Cyber Security Engineer की अनुमानित सालाना सैलरी 5 लाख 25 हजार रूपये तक है। सैलरी पैकेज आपकी नॉलेज, आपकी स्किल्स, अनुभव और एजुकेशन लेवल पर निर्भर करेगा। आप शुरु से ही अपनी अच्छी परफॉर्मेंस देंगे तो आगे चलकर आपको जॉब ऑफर्स, सैलरी पैकेजेस भी अच्छे मिलेंगे। वैसे भी साइबर सुरक्षा क्षेत्र में नौकरियों में काफी अधिक वृद्धि होने का अनुमान है। आप एक सिक्योरिटी आर्किटेक्ट, IT सिक्योरिटी मैनेजर, डायरेक्टर ऑफ सिक्योरिटी या इनफॉरमेशन सिक्योरिटी ऑफिसर भी बन सकते हैं। सिक्योरिटी इंजीनियर्स के लिए कुछ टॉप रिक्रूटर्स जैसे -Infosys, Wells Fargo, Intel Corporation, Tata, Consultancy Services, IBM, Google, Amazon आदि हैं।

TWN In-Focus