Children’s Day 2022: चिल्ड्रेन डे का विशेष है महत्व, जानें इतिहास

277
14 Nov 2022
7 min read

Post Highlight

Children’s Day 2022: बच्चों को समर्पित एक दिन, बाल दिवस (Children’s Day 2022) देश में एक वार्षिक उत्सव है जो 14 नवंबर को भारत के पहले प्रधान मंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू (Pandit Jawaharlal Nehru) के जन्मदिन के दिन मनाया जाता है। आज 14 नवंबर यानी सोमवार को यह दिन बेहद हर्षोउल्लास के साथ मनाया जा रहा है। बता दें कि यह दिन बच्चों के अधिकारों के लिए मनाया जाता है। पं नेहरू को 'चाचा नेहरू' कहा जाता था, क्योंकि वे बच्चों के बीच लोकप्रिय थे। वह उन्हें देश की भविष्य की संपत्ति मानते थे, जिनके लिए एक सर्वांगीण शिक्षा सर्वोपरि होगी।

Podcast

Continue Reading..

भारत के पहले प्रधान मंत्री, जवाहरलाल नेहरू India’s first prime Minister Jawaharlal Nehru ने एक बार कहा था, "आज के बच्चे कल का भारत बनाएंगे। जिस तरह से हम उन्हें बड़ा करेंगे, वह देश के भविष्य का निर्धारण करेगा" । वे कहते हैं कि टूटे हुए आदमियों की मरम्मत करने की तुलना में मजबूत बच्चों का निर्माण करना आसान है और ठीक ही तो है, क्योंकि बच्चे गीले सीमेंट की तरह होते हैं: जो कुछ भी उन पर पड़ता है वह एक छाप बनाता है, इसलिए हमें अपने बच्चों को निःस्वार्थ रूप से प्यार करना होगा।

हर साल, 14 नवंबर को पूरे भारत में बाल दिवस Children's Day मनाया जाता है। इस दिन को भारत के पहले प्रधान मंत्री जवाहरलाल नेहरू की मृत्यु के बाद बाल दिवस के रूप में मनाने के लिए चुना गया था, जिन्हें चाचा नेहरू Chacha Nehru कहा जाता था। जवाहरलाल नेहरू ने 14 नवंबर को अपना जन्मदिन मनाया। नेहरू बच्चों के अधिकार और एक सर्व-समावेशी शिक्षा प्रणाली के लिए एक महान समर्थक थे जहां ज्ञान सभी के लिए सुलभ है। उनका मानना था कि बच्चे देश का भविष्य और समाज की नींव होते हैं, इसलिए सभी की भलाई का ध्यान रखा जाना चाहिए।

पंडित नेहरू ने ही देश में अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान All India Institute of Medical Sciences (AIIMS), भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (IIT), भारतीय प्रबंधन संस्थान (IIM) और राष्ट्रीय  प्रौद्योगिकी संस्थान (एनआईटी) जैसे अग्रणी संस्थानों की स्थापना में शामिल थे। नेहरू ने कहा था कि आज के बच्चे कल का भारत बनाएंगे। जिस तरह से हम उन्हें लाएंगे, वह देश का भविष्य तय करेगा। 

बाल दिवस का इतिहास (History of Children's Day

14 नवंबर को भारत में 'बाल दिवस' के रूप में मनाया जाता है। इसका उत्सव 1956 में शुरू हुआ था, जब संयुक्त राष्ट्र United Nations के अनुसार 20 नवंबर को इस दिन को 'सार्वभौमिक बाल दिवस' के रूप में मनाया जाता था। सन 1964 में पं. नेहरू की मृत्यु के बाद, यह निर्णय लिया गया कि समारोह को उनकी जयंती के रूप में मनाया जाए। तब से, 14 नवंबर को भारत में बाल दिवस के रूप में मनाया जाता है।

भारत के पहले प्रधान मंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू को सम्मानित करने के लिए हर साल 14 नवंबर को बाल दिवस मनाया जाता है। इस दिन को बाल दिवस के रूप में भी जाना जाता है। बाल दिवस पंडित जवाहरलाल नेहरू की जयंती का प्रतीक है, जिन्हें बच्चे प्यार से "चाचा नेहरू" या "चाचाजी" कहते थे।

पंडित नेहरू हमेशा मानते थे कि बच्चे राष्ट्र का भविष्य हैं और उन्होंने यहां तक ​​कहा, "आज के बच्चे कल का भारत बनाएंगे। जिस तरह से हम उनका पालन-पोषण करेंगे, वही देश का भविष्य तय करेगा।'' बच्चों के प्रति उनके प्रेम और तड़प ने ही भारतीयों को बाल दिवस मनाने के लिए प्रेरित किया।

हर साल इस अवसर को बड़े उत्साह के साथ मनाने के लिए, विभिन्न स्कूल और संस्थान समारोह और कार्यक्रम आयोजित करते हैं। आज बाल दिवस पर, अपने छोटों के साथ साझा करने और उनके दिन को यादगार बनाने के लिए यहां कुछ उद्धरण, शुभकामनाएं, शुभकामनाएं, व्हाट्सएप और फेसबुक संदेश हैं।

हैप्पी चिल्ड्रन डे 2022 (Happy Children's Day Wishes)

1. बेहतर भविष्य के निर्माण की दिशा में पहला कदम हर बच्चे की सफलता का जश्न मनाना है। बाल दिवस 2022 की शुभकामनाएं!

2. इस बाल दिवस पर आशा है कि आपकी सभी इच्छाएं और इच्छाएं पूरी होंगी। आपको बाल दिवस की बहुत बहुत शुभकामनाएं।

3. राष्ट्र के विकास को बढ़ावा देने के लिए बच्चों को सशक्त बनाना। बाल दिवस 2022 की शुभकामनाएं!

4. आइए इस खास दिन पर इस धरती को बच्चों के लिए एक खुशहाल जगह बनाने का संकल्प लें।

5. बच्चे प्रभु की विरासत हैं। आइए उनके सपनों को पूरा करने के लिए मिलकर काम करें। हैप्पी बाल दिवस

6. उठो और अपना सर्वश्रेष्ठ संस्करण बनो। आपको बाल दिवस की बहुत-बहुत शुभकामनाएं।

7. मेरे सभी छात्रों के लिए, आपका भविष्य खुशियों और अवसरों से भरा हो। आप सभी को बाल दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं।

8. दुनिया के हर बच्चे को हार्दिक शुभकामनाएं और आशीर्वाद भेजना। बाल दिवस 2022 की शुभकामनाएं।

9. आप कभी भी असफलताओं के सामने आत्मसमर्पण न करें और हर स्थिति से सीखना याद रखें। आपको बाल दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं।

10. यह कभी न भूलें कि हर असफलता के पीछे एक उद्देश्य होता है। या तो यह कुछ सिखाता है या यह किसी बड़ी चीज की शुरुआत है। आपको बाल दिवस की बहुत-बहुत शुभकामनाएं।

11. इस खास दिन पर, आइए हम सभी अपने बच्चों की मासूमियत और पवित्रता का जश्न मनाएं। उन्हें हर तरह से कीमती महसूस करने दें जो हम कर सकते हैं क्योंकि वे हमारा भविष्य हैं। हैप्पी बाल दिवस! Happy Children's Day!

TWN In-Focus